Demo

Uttarakhand News- उत्तराखंड से मौसम को लेकर आया बड़ा अपडेट. जहां हम आपको सूत्रों के मुताबिक बताने जा रहे हैं कि प्रदेश के पर्वतीय इलाकों में बीते 2 दिन हुई बारिश व बर्फबारी का असर अगले कुछ दिनों तक मैदानी इलाकों में देखने को मिलेगा। वही, Meteorological Center की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार प्रदेश भर में 18 December तक मौसम शुष्क तो रहेगा, लेकिन शीतलहर के चलते पहाड़ से लेकर मैदान तक सुबह-शाम के समय ठंड सताएगी। इसके अलावा दोनों समय के तापमान में गिरावट भी देखने को मिलेगी।

बता दे की Weather Scientists का कहना है की Chardham समेत ऊंचाई वाले इलाकों में हुई बर्फबारी का सीधा असर मैदानी इलाकों के तापमान में पड़ता है। शीतलहर के चलने से सुबह-शाम के साथ दिन के तापमान में भी असर देखने को मिलता है। हालांकि, विंटर बारिश न होने की वजह से बीते कुछ दिनों से मैदानी इलाकों के अधिकतम तापमान में 1-2 डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की जा रही थी। यही वजह है कि मैदानी इलाकों में सुबह के समय कोहरे की चादर लोगों को परेशान कर रही है। खासकर Udham Singh Nagar और Haridwar district में कोहरा छा रहा है।

साल 2014 में हुई थी रिकॉर्ड बर्फबारी

वही, प्रदेश भर में December महीने में साल 2014 में रिकॉर्ड बर्फबारी हुई थी। इस साल पूरे राज्य में 24 inch बर्फबारी दर्ज की गई थी। इससे पहले साल 2005 में 3.8 inch बर्फबारी हुई थी। जबकि, बीते साल November और December के महीने में न के बराबर बर्फबारी देखने को मिली थी। इसकी बड़ी वजह विंटर बारिश का कम होना बताया गया था।

बर्फबारी पर निर्भर है उत्तराखंड (Uttarakhand) का शीतकालीन पर्यटन

साथ ही वही उत्तराखंड (Uttarakhand) का शीतकालीन पर्यटन यहां होने वाली बर्फबारी पर निर्भर है। ऐसे में इस साल December के आखिरी तक अच्छी बर्फबारी होने के आसार है। जिसका सीधा असर पर्यटन क्षेत्र पर देखने को मिलेगा। इससे Winter Track Dayara Bugyal, Nag TibbaWinter Track Dayara Bugyal, Nag Tibba जैसे ट्रैक पर पर्यटकों की अच्छी भीड़ देखने को मिलेगी।

साथ ही वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आपको बता दें कि 18 दिसंबर तक प्रदेश भर में मौसम शुष्क रहेगा। हालांकि, बीते कुछ दिनों से ऊंचाई वाले इलाकों में हुई बर्फबारी से मैदानी इलाकों में शीतलहर चलेगी। इससे तापमान में असर पड़ेगा। दिन के मुकाबले रात के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की जाएगी। इसके अलावा इस साल सर्दियों में अच्छी बर्फबारी होने की संभावना है।

Share.
Leave A Reply