Doon Prime News
dehradun

अंकिता भंडारी मर्डर केस में बड़ा खुलासा आरोपियों ने बताई हत्या की वजह

अंकिता भंडारी

अंकिता मर्डर केस में एक बड़ा खुलासा सामने आया है। पांच दिनों से लापता अंकिता भंडारी की नहर में धकेल कर हत्या की गई। यह खुलासा करते हुए पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर रिसोर्ट के संचालक पूर्व राज्यमंत्री के बेटे पुलकित आर्या व उसके दो मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया। अंकिता का शव तलाशने के लिए पुलिस ने एसडीआरएफ से मदद ली। चीला नहर का पानी भी बंद कराया, लेकिन शाम तक उसका शव बरामद नहीं किया जा सका।

शनिवार सुबह अंकिता का शव बरामद कर लिया गया। एसएसपी कोटद्वार शेखर सुयाल ने शुक्रवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पौडी गढवाल के नादलस्यू पट्टी के श्रीकोट निवासी अंकिता भंडारी वनन्त्रा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करती थी। वह गत 18 सितंबर को रहस्य मय ढंग से लापता हो गई थी। रिजॉर्ट के मालिक पुलकित आर्या की ओर से उसकी गुमशुदगी की शिकायत राजस्व पुलिस चौकी में दर्ज कराई गई।

बृहस्पतिवार तक अंकिता का कुछ पता नहीं चला। इसके बाद मामला लक्ष्मणझूला थाना पुलिस को ट्रांसफर कर दिया गया। इसके बाद जब पुलिस ने जांच की तो रिसॉर्ट के संचालक और उसके मैनेजरों की भूमिका सामने आई। रिसोर्ट के कर्मचारियों से पूछ्ताछ करने पर यह सामने आया है कि 18 सितंबर को शाम करीबन 8:00 बजे अंकिता रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्या, मैनेजर अंकित और भास्कर के साथ रिसोर्ट से बाहर गए थे। इसके बाद करीब साढे़ 10:00 बजे ये तीनों रिजॉर्ट में वापस लौटे लेकिन अंकिता उनके साथ नहीं थी। इस आधार पर पुलिस ने तीनों को अपनी हिरासत में लेकर पूछ्ताछ की तो उन्होंने सारे घटनाक्रम को उगल दिया।

उन्होंने पुलिस को बताया कि अंकिता पर वह यहाँ आने वाले ग्राहकों से संबंध बनाने को कहते थे। यह बात अंकिता सबको बता रही थी। वह बार बार रिसोर्ट की हकीकत सामने लाने की धमकी दे रही थी। इस बात को लेकर विवाद चल रहा था। घटना वाले दिन अलग अलग वाहनों पर चारों लोग चीला बैराज के पास गए। वहाँ पर उन्होंने फास्ट फूट के साथ शराब पी। इसके बाद आगे चले और नहर किनारे रुक गए।

यहाँ पर पुलकित और अंकिता का फिर से झगड़ा शुरू हो गया। इस बीच अंकिता ने पुलकित का फ़ोन छीनकर नहर में फेंक दिया। इस बात पर पुलकित को गुस्सा आया और उसने अंकिता को नहर में धक्का दे दिया। अंकिता ने दो बार पानी से ऊपर आकर बचाने के लिए आवाज लगाई, मगर तीनों डर गए और वहाँ से भागकर रिजॉर्ट में आ गए।

यह भी पढ़े – अंकिता भंडारी हत्याकांड में बड़ा अपडेट ,चीला पॉवर हाउस से SDRF ने किया शव बराम

यहाँ पर उन्होंने कर्मचारियों को इस तरह से बताया कि अंकिता अपने कमरे में ही है और कुछ देर बाद तीनों ही राजस्व पुलिस चौकी में अंकिता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने चले गए। एसएसपी ने बताया कि लंबी पूछ्ताछ के बाद पुलकित आर्या निवासी स्वदेशी भवन आर्यनगर ज्वालापुर हरिद्वार अंकित उर्फ पुलकित गुप्ता आर्या निवासी दयानंद नगरी ज्वालापुर हरिद्वार और सौरभ भास्कर निवासी सूरजनगर ज्वालापुर हरिद्वार को हत्या और सबूत छुपाने आदि के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है।

Related posts

रायवाला पुलिस व SOG देहात की संयुक्त टीम द्वारा रायवाला क्षेत्र से चोरी ट्रैक्टर ट्राली को सहारनपुर बार्डर से बरामद कर 02 अभियुक्त को मोटर साइकिल के साथ किया गिरफ्तार।

doonprimenews

‘इस गांव में आकर शर्मसार न करें’, देहरादून के केशरवाला गांव के लोगों ने लगाया बैनर

doonprimenews

नशामुक्ति केंद्र के कर्मचारी ने पहले से केंद्र में भर्ती आठ युवकों को भगाया, पुलिस ने जांच पड़ताल कर नशामुक्ति केंद्र संचालकों को चेतावनी दी .

doonprimenews

Leave a Comment