Doon Prime News
international

DGP अशोक कुमार ने बताया यूक्रेन में फंसे हैं उत्तराखंड के 188 लोग, MEA कर रहा जरूरी कार्रवाई

यूक्रेन में फंसे हजारों भारतीय छात्रों के सामने युद्धग्रस्त देश से सकुशल वापसी बड़ी चुनौती बनी हुई है. इसमें उत्तराखंड के कई छात्र-छात्राएं भी फंसे हुए हैं, जो वीडियो बनाकर मदद की गुहार लगा रहे हैं. वहीं उत्तराखंड के 188 लोगों के यूक्रेन में फंसे होने की सूचना मिली है. डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि विदेश मंत्रालय उन्हें सकुशल वापसी के लिए लगातार प्रयास कर रहा है. साथ ही सरकार ने लोगों की सहूलियत के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं.

यूक्रेन में भारत के 20 हजार से ज्यादा लोग फंसे हैं. इनमें छात्र और व्यवसासियों समेत वहां जॉब करने वाले लोग शामिल हैं. भारत सरकार ने भी यूक्रेन में फंसे अपने नागरिकों को निकालने की कोशिशें तेज कर दी हैं. एयर इंडिया के विमान ने रोमानिया के लिए उड़ान भरी है. एअर इंडिया (Air India plane) का एक विमान रूस के आक्रमण के चलते यूक्रेन में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने के वास्ते रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट पहुंचा. उड़ान संख्या एआई1943 ने तड़के करीब तीन बजकर 40 मिनट पर मुंबई हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी.

यह भी पढ़े – देहरादून में लॉटरी के चक्कर में गंवाए डेढ़ लाख से ज्यादा, पुलिस को बताई आपबीती

जो भी भारतीय नागरिक सड़क मार्ग से यूक्रेन-रोमानिया सीमा पर पहुंच गये हैं, उन्हें भारत सरकार के अधिकारी बुखारेस्ट ले जायेंगे ताकि उन्हें एअर इंडिया की उड़ानों के जरिए स्वदेश लाया जा सके. बता दें कि, एअर इंडिया यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने के लिए बुखारेस्ट और हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट के लिए शनिवार को और उड़ानें संचालित करेगी.

यूक्रेन पर रूस के हमले का आज तीसरा दिन है. शनिवार को राजधानी कीव समेत यूक्रेन के सभी अहम शहरों में धमाके हुए हैं. रूसी सैनिक राजधानी कीव में दाखिल हो गए हैं और यूक्रेनी सैनिकों से उनकी आमने-सामने की लड़ाई शुरू हो चुकी है. इस बीच यूक्रेन ने 300 रूसी पैराट्रूपर्स से भरे दो प्लेन मार गिराने का दावा किया है. रूसी सैनिकों ने कीव के एयरपोर्ट पर कब्जा कर लिया है.

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में रूस के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास किया गया. इस प्रस्ताव के पक्ष में 11 और विपक्ष में 1 वोट पड़ा. भारत, चीन और UAE ने वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया. हालांकि, रूस ने वीटो पावर का इस्तेमाल कर इस निंदा प्रस्ताव को खारिज कर दिया.

सीएम धामी ने यूक्रेन में निवासरत उत्तराखंड के लोगों की सुरक्षा के संबंध में उनके परिजनों से प्राप्त हो रही जरूरी सूचनाओं के संकलन के लिये पुलिस महानिरीक्षक पी. रेणुका देवी (मोबाइल नंबर – 7579278144) और पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार (मोबाइल नंबर 983778889) को नोडल अधिकारी नामित किया है. जारी किये गये टोल फ्री नंबर 112 पर अभी तक यूक्रेन में निवासरत 95 लोगों के परिजनों ने संपर्क स्थापित किया है.

उत्तराखंड सरकार ने यूक्रेन में फंसे लोगों के लिए टोल फ्री नंबर शुरू किये हैं. इसमें डायल 112 सहित टोल फ्री नंबर 1820 218 797 के अलावा +91 1123012113, 91 1123014104, 91 1123017905 के अलावा देहरादून कंट्रोल रूम 9411112962 हेल्पलाइन नम्बर जारी किये गये हैं. इन नंबरों पर फंसे लोगों की डिटेल जिलेवार एकत्र कर उत्तराखंड शासन विदेश मंत्रालय को भेज रहा है. जहां से उन्हें वापस लाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. जानकारी के मुताबिक, अभी तक यूक्रेन में फंसे उत्तराखंड के 170 से अधिक लोगों की पहचान हुई है. जिनकी डिटेल, नंबर, ईमेल और यूक्रेन के रहने वाले स्थान जैसी आवश्यक जानकारी शासन को उपलब्ध कराई जा रही हैं.

 

 

Related posts

26 वर्षीय महिला ने 30 हजार फ़ीट की ऊंचाई पर विमान में दिया बच्चे को जन्म,जानिए कहां की है यह खबर.

doonprimenews

तालिबान ने किया अफगानिस्तान के तीसरे सबसे बड़े शहर पर कब्जा ‌ पढ़िए पूरी खबर

doonprimenews

रूस , यूक्रेन पर दाग रहा बैलिस्टिक मिसाइल, इस मिसाइल की क्या है खासियत पढ़िए पूरी खबर

doonprimenews

Leave a Comment