Doon Prime News
nation

General Manoj Pandey बने नए army chief, जानिए कौन है नए सेना प्रमुख मनोज पांडे

General Manoj Pandey

General Manoj Pandey को new Indian army chief चुना गया है। आज मनोज पांडे ने सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार ग्रहण भी कर लिया। आपको बता दें कि अभी तक जनरल Manoj Mukund Narvane भारतीय सेना के प्रमुख थे, लेकिन अब जनरल मनोज पांडे को भारतीय सेना का प्रमुख बना दिया गया है।

आपको बता दें कि general Manoj Pandey पहले ऐसे Army Chief हैं, जो cops of engineers से आते हैं।आज हम आपको बताएंगे नए सेना अध्यक्ष जनरल मनोज पांडे के एक सेना के अधिकारी से सेना के सर्वोच्च अधिकारी बनने तक का सफर।

General Manoj Pandey का परिवार महाराष्ट्र के नागपुर से आता है। मनोज पांडे ने अपनी शुरुआती भी स्कूलिंग के बाद national defence academy ज्वाइन कर ली थी। उनके पिता डॉक्टर सीजी पांडे थे, जबकि उनकी मां ऑल इंडिया रेडियो में एनाउंसर और होस्ट रह चुकी थी। मनोज पांडे ने इंडियन मिलिट्री अकादमी से अफसर कमीशन लिया।

आपको बतादें की General Manoj Pandey सेनाध्यक्ष बनने से पहले ईस्टर्न कमांड के कमांडिंग ऑफिसर रह चुके हैं। उन्होंने अंडमान एंड निकोबार में कमांड के कमांडर इन चीफ का पद भी संभाला है। मनोज पांडे को अभी तक परम विशिष्ट सेवा मेडल, अतिरिक्त विशिष्ट सेवा मेडल और विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया गया है

आपको बता दें कि General Manoj Pandey United Nations mission में बतौर चीफ इंजीनियर भी काम कर चुके हैं। सन 1982 में बॉम्बे सैपर्स में उन्हें कमीशन मिला, यह कॉर्प्स आफ इंजिनियर्स का ही एक रेजिमेंट है, जिससे जनरल मनोज पांडे आते हैं। उन्होंने ब्रिटेन के कंबल ले के स्टाफ कॉलेज में हिस्सा लिया और जब उनका कोर्स पूरा हो गया तो उसके बाद वह भारत वापस आ गए और नार्थ ईस्ट की माउंटेन ब्रिगेड के ब्रिगेड मेजर नियुक्त हो गए। इसके बाद वे लेफ्टिनेंट कर्नल के पद तक पहुंचे और उन्होंने यूनाइटेड नेशंस मिशन के चीफ इंजीनियर के रूप में इथोपिया और इरिटिया में काम किया।

ये भी पढ़ें : भारत पहुंचा corona का एक और वैरिएंट, माना जा रहा है बेहद संक्रामक, यहां मिला पहला केस

आपको बता दें कि General Manoj Pandey एलओसी मैं 117 इंजीनियरिंग रेजीमेंट की अगुवाई भी कर चुके हैं। ऑपरेशन पराक्रम के दौरान भी उन्हें रेजीमेंट कमांडर बनाया गया था।जनरल मनोज पांडे ने महू के आर्मी और कॉलेज में दाखिला लिया और उन्होंने वहां से हायर कमांडर का कोर्स पूरा किया जिसके बाद उन्हें हेड क्वार्टर 8 माउंटेन डिवीजन के कर्नल क्यू के रूप में नियुक्त किया गया।

इसके बाद जनरल पांडे ने आठ माउंटेन डिवीजन की कमान संभाली और इसके बाद उन्हें सेना मुख्यालय में सैन्य अभियान निदेशालय में अतिरिक्त महानिदेशक के रूप में भी तैनात किया गया। मनोज पांडे दक्षिणी कमान के चीफ ऑफ स्टाफ की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं।

Related posts

कांग्रेस प्रत्याशी महेश शर्मा बोले- इस बार बंशीधर भगत का राजयोग होगा खत्म

doonprimenews

कन्हैयालाल के दोनो हत्यारों का अजमेर से था कनेक्शन, अजमेर पुलिस ने सभी संवेदनशील क्षेत्रों में बढ़ाई सुरक्षा।

doonprimenews

आज होगी हाईकोर्ट में फांसी की सज़ा पर सुनवाई,नाबालिग से दुष्कर्म और हत्या का है मामला

doonprimenews

Leave a Comment