Doon Prime News
crime

Honeytrap Case- पाकिस्तान के इन दो हसीनाओं के जाल में फंसा सैन्यकर्मी।

सैन्यकर्मी

आज की खबर भारतीय सेना से संबंधित है। जयपुर भारतीय सेना का एक नौजवान सैन्यकर्मी ने पाकिस्तानी महिला जासूसों के हनीट्रैप का शिकार हो गया है। पाकिस्तान के लिए जासूसी कर रहे हैं इस सैन्यकर्मी को जयपुर इंटेलिजेंस यूनिट की पुलिस ने गिरफ्तार किया है।


यह सैन्यकर्मी सोशल मीडिया के जरिए भारतीय सेना की गोपनीय जानकारी इकट्ठा कर रही पाकिस्तानी गुप्तचर एजेंसी आईएसआई की महिला एजेंटों के लिए जासूसी कर रहा था। गिरफ्तार हुए सैन्यकर्मी का नाम शांतिमोय राणा है, वह पश्चिमी बंगाल का रहने वाला है। यह सैन्यकर्मी मार्च 2018 में सेना में भर्ती हुआ था और इसके बाद उसकी पोस्टिंग राजस्थान में हुई थी।


जयपुर इंटेलिजेंस यूनिट की पुलिस के मुताबिक शांतिमोय राणा पिछले कुछ महीनों से सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तान की दो महिला एजेंट से संपर्क में था। उन दोनों महिला एजेंटो ने खुद को मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस और नर्सिंग सर्विस में बताकर शांतिमोय राणा से दोस्ती की थी। इन दोनों एजेंटों ने अपना नाम गुरनूर कौर उर्फ अंकिता और निशा बताया था।


गोपनीय दस्तावेजों के फोटोग्राफ और युद्धाभ्यास के वीडियो मांगने लगे।


इन दोनों में से एक एजेंट ने खुद को उत्तर प्रदेश की रहने वाली और मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस मैं बताया। और वहीं दूसरी तरफ दूसरी एजेंट ने खुद को मिलिट्री नर्सिंग सर्विस में बताया। इसी तरह दोनों ने शांतिमोय नाम के सैन्यकर्मी को अपने जाल में फंसा लिया। उसे रुपयों का लालच और प्रपोजल में फंसने के बाद भारतीय सेना से संबंधित गोपनीय दस्तावेजों के फोटोग्राफ और युद्ध अभ्यास के वीडियो मंगवाने लगी।


ऑपरेशन सरहद के तहत पाकिस्तानी गुप्तचर एजेंसियों पर रखी जाती है नजर।


डीजी इंटेलीजेंस उमेश मिश्रा ने बताया कि ऑपरेशन सरहद के नाम से चलाए गए अभियान में पाकिस्तानी गुप्तचर एजेंसियों के लिए की जानें वाली जासूसी गतिविधियों पर नजर रखी जाती है। इसमें सैन्यकर्मी शांतिमोय राणा के पाकिस्तानी महिला एजेंटों के संपर्क में होने की जानकारी मिली थी। इस पर शांतिमोय को 25 जुलाई को हिरासत में लिया गया है और उससे पूछ्ताछ करने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उससे पूछ्ताछ अभी भी जारी है।

यह भी पढ़ें- टीम इंडिया का स्टार बल्लेबाज़ कर रहा है वापसी, अमेरिका में खेलेगा मैच


पहले भी फंस चूके हैं सैन्यकर्मी, इन पाकिस्तानी महिला हनीट्रैप मे


ऐसा पता चला है कि इससे पहले भी कई महिला जासूस भारतीय सेना के जवानों और कर्मचारियों पर जाल बिछाकर उन्हें अपने जाल में फंसाया है इसकी लिस्ट काफी लंबी है। हनीट्रैप में फंसे कई जवान पहले भी पकड़े जा चूके हैं। यह पूरा काम सोशल मीडिया के जरिए सँभाला जाता है।

Related posts

रिलायंस ज्वैलरी शोरूम डकैती प्रकरण में पुलिस को मिली एक और सफलता डकैती की योजना में शामिल एक और अभियुक्त को पुलिस ने किया गिरफ्तार। जानिए पूरी खबर।

doonprimenews

उत्तराखंड के बाजपुर में लगातार दो हत्याएँ, सनसनी का माहौल

doonprimenews

कुमाऊं मंडल में लगातार बढ़ रहे साइबर ठगी के मामले, जनवरी से अब तक 130 केस दर्ज

doonprimenews

Leave a Comment