Yahoo ने भारत में बंद की अपनी ये सभी सेवाएं,जानिए क्या है कारण - Doon Prime News
Doon Prime News
business

Yahoo ने भारत में बंद की अपनी ये सभी सेवाएं,जानिए क्या है कारण

Yahoo ने भारत में बंद की अपनी ये सभी सेवाएं,जानिए क्या है कारण

नई दिल्ली: याहू (Yahoo) ने  अपनी समाचार वेबसाइटें को भारत में  बंद कर दी हैं. इनमें याहू न्यूज, याहू क्रिकेट, फाइनेंस, एंटरटेनमेंट और मेकर्स इंडिया सभी  शामिल हैं. कंपनी ने गुरुवार को इस बारे में घोषणा भी  की.

कंपनी ने कहा कि उसके इस फैसले का Yahoo Mail और Yahoo Search पर  किसी भी तरह का  असर नहीं पड़ेगा. वे दोनों सेवाएं पहले की तरह ही  बिना किसी बदलाव के जारी रहेंगी.

कंपनी की ये सर्विस हो गईं बंदYahoo ने गुरुवार को अपनी वेबसाइट पर एक नोटिस जारी किया. जिसमें लिखा था, ’26 अगस्त, 2021 से Yahoo India अब कोई  भी सामग्री प्रकाशित नहीं करेगा. लोगों के Yahoo Mail अकाउंटस, Yahoo Mail और Yahoo सर्च इंजन सर्विस पहले की तरह काम करते रहेंगे. हमें पढ़ने और सहयोग देने के लिए आप  सबका धन्यवाद.’Yahoo ने कहा कि अब से 26 अगस्त 2021 से भारत में कंटेंट का पब्लिकेशन करना बंद कर दिया है. साथ ही देश में याहू कंटेंट ऑपरेशंस को भी बंद कर दिया गया है.

20 साल से कंटेंट को  पब्लिश कर रही थी कंपनीकंपनी ने कहा,  यह फैसला  हमारे लिए आसान नहीं रहा. क्युकी  भारत में पिछले दिनों से  डिजिटल मीडिया पर  एक नया कानून बना है. जिसके तहत भारत में डिजिटल कंटेंट बनाने और चलाने वाली कंपनियों में विदेशी स्वामित्व की  एक अधिकतम सीमा भी  तय कर दी गई है. हम पिछले 20 साल से भारत  अपने यूजर्स को लोकल कंटेंट  भी पेश करते आए हैं. जिस पर हमें गर्व है.’Yahoo ने कहा कि नए FDI कानूनों के तहत Yahoo Cricket  एक न्यूज कंपोनेंट है. जिस पर विदेशी स्वामित्व की मात्रा  लागू होती है. इसलिए इसे भी बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़े-Reuters poll के अनुसार भारतीय economy में हो रही है जबरदस्त रिकवरी,GDP वृद्धि की संभावना रिकॉर्ड स्तर पर 

इस महीने लागू होगा यह  नया FDI रेग्युलेशनबताते  दे कि केंद्र सरकार ने डिजिटल मीडिया के नियमन के लिए नया FDI रेग्युलेशन  भी  तैयार किया है. यह रेग्युलेशन इस साल  के अक्टूबर से लागू होने जा रहा है.  और इसके तहत भारत की कोई भी डिजिटल मीडिया कंपनी विदेश से अधिकतम 26 पर्सेंट निवेश हासिल कर सकती है. यह निवेश भी केंद्र सरकार की अनुमति के बाद ही स्वीकार किया जा सकता है ।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए  यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें. व्हाट्सएप ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें,

Share this story

Related posts

Voter ID Card Check Online- अगर अभी तक नहीं किया है Voter ID और Aadhaar Card से जुड़ा ये काम तो फटाफट निपटा लें, वरना हो सकती है काफी दिक्कत

doonprimenews

Gold-Silver Price- अगर आप ज्‍वैलरी आद‍ि खरीदने का प्‍लान कर रहे हैं तो पहले चेक कर लें नए रेट

doonprimenews

What is Crypto currency in hindi: क्या है क्रीप्टोकरेन्सी जिसने बाज़ार भौकाल मचाया हुआ है.

doonprimenews

Leave a Comment