Uttarakhand: खालिस्तानी आतंकी अर्शडाला का सहयोगी हरिद्वार से गिरफ्तार, अपने गांव के व्यक्ति को दिलाई थी धमकी। - Doon Prime News
Doon Prime News
uttarakhand

Uttarakhand: खालिस्तानी आतंकी अर्शडाला का सहयोगी हरिद्वार से गिरफ्तार, अपने गांव के व्यक्ति को दिलाई थी धमकी।

अर्शडाला सुखविंदर उर्फ सुक्खी का करीबी है। सुक्खी की कनाडा में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। दिल्ली पुलिस कुछ दिन पहले ही अर्शडाला के चार शूटर को गिरफ्तार कर चुकी है।

एसटीएफ ने खालिस्तानी आतंकी अर्शप्रीत उर्फ अर्शडाला के हरिद्वार निवासी साथी सुशील कुमार को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने अपने ही गांव के व्यक्ति को अर्शडाला से धमकी दिलाई और फिर रंगदारी मांगी। एसटीएफ ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के साथ मिलकर कार्रवाई की है।अर्शडाला सुखविंदर उर्फ सुक्खी का करीबी है। सुक्खी की कनाडा में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। दिल्ली पुलिस ने कुछ दिन पहले ही अर्शडाला के चार शूटर को गिरफ्तार कर चुकी है। आरोपी सुशील अर्शडाला की गैंग को हथियार भी सप्लाई करता था। पुलिस ने आरोपी को न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया है।एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि टिकौला (मंगलौर क्षेत्र) निवासी कविंद्र प्रमुख ने मंगलौर कोतवाली में रंगदारी का मुकदमा दर्ज कराया था। कविंद्र का कहना था कि उनके गांव के रहने वाले सुशील ने उसकी बात सिग्नल एप के माध्यम से अर्शडाला नाम के व्यक्ति से कराई थी। अर्शडाला ने उन्हें धमकी दी और रंगदारी सुशील को देने के लिए कहा। पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया और मामले की जांच शुरू की।

इस बीच एसटीएफ ने जानकारी जुटाई तो पता चला कि अर्शप्रीत उर्फ अर्शडाला मूल रूप से पंजाब के मोगा जिले का रहने वाला है। उसे पिछले साल सितंबर में आतंकी घोषित किया गया था। वह सुखविंदर गिल उर्फ सुक्खी दुने का करीबी है। सक्खी की पिछले दिनों अज्ञात बंदूधारियों ने कनाडा में गोली मारकर हत्या कर दी थी। हालांकि, इसकी जिम्मेदारी लॉरेंस विश्नोई ने ली थी।अब सुशील के बारे में पता चला कि वह अर्शडाला की गैंग को हथियार सप्लाई करता है। एसटीएफ को जानकारी मिली कि पिछले दिनों दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अर्शडाला के चार शूटर को गिरफ्तार किया था। दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर ही सुशील को उसके गांव टिकौला से गिरफ्तार किया गया। आरोपी से इस गैंग के बारे में और भी जानकारी जुटाई जा रही है। हालांकि, फिलहाल उसे न्यायालय के आदेश से जेल भेज दिया गया है।

अर्शडाला गैंग का मुख्य शूटर राजप्रीत उर्फ राजा बम है। उसने पिछले साल पंजाब में एक व्यक्ति की हत्या की थी। इसके बाद सुशील ने राजा बम को अपने घर पनाह दी थी। वह उसके घर जनवरी 2023 से जुलाई 2023 तक रहा था। राजा बम ने ही अर्शडाला से सुशील की जान पहचान कराई थी। तब से दोनों सिग्नल एप के माध्यम से संपर्क में रहते हैं। अर्शडाला टार्गेट किलिंग को अंजाम देता है। इसके साथ ही वह खालिस्तानी आतंकियों को सीमापार से फंडिंग भी कराता है।अर्शडाला को शक था कि सुक्खी की हत्या कराने में लॉरेंस विश्नोई की मदद पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री के सेलिब्रिटी एली मंगत ने की थी। ऐसे में वह एली मंगत को अपने शूटर राजा बम से मरवाना चाहता है। दिल्ली पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

Related posts

Corona Update :कोविड से निपटने के लिए उत्तराखंड में पर्याप्त इंतजाम, किसी भी चुनौती से निपटने को तैयार है स्वास्थ्य विभाग -स्वास्थ्य मंत्री

doonprimenews

उत्तराखंड में 4 वर्चुअल रैलियां करेंगे पीएम मोदी, कल करेंगे कुमाऊं के चार जिलों में संबोधन

doonprimenews

Uttarakhand Investor Conference :सरकार ने रखा आगामी चार साल में 70हजार करोड़ का निवेश धरातल में उतारने का लक्ष्य, ढाई लाख लोगों को मिलेगी नौकरी

doonprimenews

Leave a Comment