Doon Prime News
uttarakhand

खून लेकर AIIMS ऋषिकेश से नई टिहरी पहुंचा ड्रोन, महज 33 मिनट में 49 किलोमीटर की दूरी कर ली तय

एम्स ऋषिकेश से उप निदेशक लेफ्टिनेंट कर्नल अमित परासर (सेनि) ने ड्रोन को नई टिहरी जिला चिकित्सालय के लिए रवाना किया। संस्थान के ड्रोन हेल्थ सेवा के नोडल अधिकारी डा. जितेंद्र गैरोला ने बताया कि ब्लड कंपोनेंट की सुरक्षा के तहत कोल्डचेन के साथ कुल वजन 1.8 किलोग्राम था। ड्रोन 33 मिनट में 49 किलोमीटर की दूरी तय कर दोपहर 12.25 बजे जिला चिकित्सालय नई टिहरी पहुंचा।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश की नियमित ड्रोन सेवा से शुक्रवार को ब्लड कंपोनेंट (एक यूनिट प्लेटलेट्स, दो यूनिट आरबीसी) जिला अस्पताल नई टिहरी भेजे गए। इसमें महज 33 मिनट का समय लगा।

यह भी पढ़े :हरिद्वार पहुंचे किसान नेता टिकैत ,शंकराचार्य स्वामी राजराजेश्वर का लिया आशीर्वाद, किसान आंदोलन को लेकर कही ये बात

शुक्रवार को एम्स ऋषिकेश से उप निदेशक लेफ्टिनेंट कर्नल अमित परासर (सेनि) ने ड्रोन को नई टिहरी जिला चिकित्सालय के लिए रवाना किया। संस्थान के ड्रोन हेल्थ सेवा के नोडल अधिकारी डा. जितेंद्र गैरोला ने बताया कि ब्लड कंपोनेंट की सुरक्षा के तहत कोल्डचेन के साथ कुल वजन 1.8 किलोग्राम था।

एम्स हेलीपैड से पूर्वाह्न 11.52 बजे ड्रोन को रवाना किया गया। ड्रोन 33 मिनट में 49 किलोमीटर की दूरी तय कर दोपहर 12.25 बजे जिला चिकित्सालय नई टिहरी पहुंचा।डा. जितेंद्र गैरोला ने बताया कि एम्स ऋषिकेश राज्य, केंद्र सरकार व संस्थान की टेलीमेडिसिन सेवा के सहयोग से ड्रोन आधारित स्वास्थ्य सेवाओं को उत्तराखंड के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में इमरजेंसी मेडिसिन, रक्त संबंधी जरूरतों को पूरा करने, चारधाम यात्रा के समय आपात स्थितियों व हाई एल्टीट्यूड मेडिसिन पहुंचाने के लिए सीएचसी सेंटर, जिला अस्पतालों व अन्य दुर्गम क्षेत्रों की मैपिंग योजना पर कार्य कर रहा है। इस दौरान ड्रोन सेवा टीम के सदस्य ममता रतूड़ी, शिवानी भट्ट, ऋषभ कोटियाल आदि मौजूद रहे।

Related posts

उत्तराखंड में पहली बार बन रही महिला नीति, ड्राफ्ट हुआ तैयार, आधी आबादी मांगे आधा अधिकार

doonprimenews

Big Breaking- फर्जी सीबीआई अधिकारी बन युवती से की सगाई, शादी से दो दिन पहले खुला राज, जनिए पुरा मामला

doonprimenews

20विधायक शासन को भेज चुके हैं प्रस्ताव, अब सड़कों के साथ रोपवे कनेक्टिविटी की मांग कर रहे पर्वतीय क्षेत्र

doonprimenews

Leave a Comment