जल्द पलटेगा गैरसैण मंडल का फैसला। अल्मोड़ा बागेश्वर फिर होंगे कुमाऊं में शामिल, इन बीजेपी नेताओं ने दिए संकेत। - Doon Prime News
Doon Prime News
almora

जल्द पलटेगा गैरसैण मंडल का फैसला। अल्मोड़ा बागेश्वर फिर होंगे कुमाऊं में शामिल, इन बीजेपी नेताओं ने दिए संकेत।

जल्द पलटेगा गैरसैण मंडल का फैसला। अल्मोड़ा बागेश्वर फिर होंगे कुमाऊं में शामिल, इन बीजेपी नेताओं ने दिए संकेत।

अपने कार्यकाल के अंतिम बजट सत्र के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक ऐसा फैसला लिया था, जिसने सभी को असमंजस की स्थिति में डाल दिया था।कुमाऊं और गढ़वाल दोनों जगह इसका विरोध हो रहा था और यह फैसला था कुमाऊं और गढ़वाल के दो दो जिलों को मिलाकर एक अलग से कमिश्नरेट गैरसैण बनाने का। और अब इस मामले में नई कैबिनेट बनने के बाद लोगों को उम्मीद है कि अब यह फैसला वापस लिया जा सकता है।
इन नेताओं ने दिए संकेत।
आपको बता दें कि गैरसैण (gairsain) को अलग से मंडल बनाने को लेकर अभी तक कोई अधिसूचना जारी नहीं हुई है और यह सिर्फ घोषणा थी इसलिए इस पर अभी भी पुनर्विचार संभव है मीडिया से बात करते हुए भारतीय जनता पार्टी के डीडीहाट से विधायक और तीरथ सिंह रावत कैबिनेट में मंत्री बने बिशन सिंह चुफाल ने की सरकार इस फैसले पर पुनर्विचार कर सकती है वही अल्मोड़ा से सांसद अजय टम्टा व नैनीताल से सांसद अजय भट्ट ने भी कहा है कि सरकार इस फैसले पर पुनर्विचार कर सकती है।

 यह भी पढ़ें- तीरथ सिंह रावत कैबिनेट की पहली बैठक में लिए गए दो महत्वपूर्ण फैसले, जानिए कौनसे है ये फैसले।
बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने कहा हटाया जाएगा फैसला।
दून प्राइम न्यूज़ से बातचीत में भारतीय जनता पार्टी के अल्मोड़ा से एक वरिष्ठ नेता ने बताया की सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले को जल्द वापस लिया जाएगा । उन्होंने यह भी कहां कि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के द्वारा भी इस फैसले का विरोध किया जाना चाहिए था। आपको बता दें कि जब से अल्मोड़ा को गैरसैण में मिलाने का फैसला हुआ है, तभी से वहां सरकार के खिलाफ लोगों में गुस्सा बढ़ रहा है और सरकार नहीं चाहेगी कि किसी एक फैसले की वजह से उन्हें आने वाले चुनाव में नुकसान हो। इसलिए भी यह लग रहा है कि सरकार इस फैसले को वापस ले सकती हैं।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए  यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें. व्हाट्सएप ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें,Share this story

Related posts

सेल्फी लेना पड़ा महंगा, यहां उत्तर प्रदेश के तीन दोस्त सेल्फी लेने के चक्कर में गंगा नदी में बह गए

doonprimenews

तीन महीने आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को नहीं मिला वेतन, फूटा गुस्सा

doonprimenews

उत्तराखंड का यह टीचर बना पहला गूगल सर्टिफाइड टीचर,जानिए कौन और कहा से है यह शिक्षक

doonprimenews

Leave a Comment