Doon Prime News
National health

“IMA का बड़ा बयान: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बाबा रामदेव की फार्मेसी की 14 औषधियों के लाइसेंस निलंबित”

दवाओं के भ्रामक विज्ञापनों पर कार्रवाई नहीं करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद उत्तराखंड के आयुर्वेद एवं यूनानी विभाग ने योगगुरु बाबा रामदेव की दिव्य फार्मेसी व पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई की है।

यह भी पढ़े- “कल घोषित होगा उत्तराखंड बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट, तैयार रहें छात्र”

विभाग के राज्य औषधि अनुज्ञापन अधिकारी ने दिव्य फार्मेसी व पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड की 14 औषधियों के लाइसेंस निलंबित करते हुए निर्माण पर रोक लगा दी है।सुप्रीम कोर्ट द्वारा बाबा रामदेव को फटकार लगाने के बाद आइएमए की पहली टिप्पणी सामने आई है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) के अध्यक्ष डा.आरवी अशोकन ने सोमवार को कहा कि बाबा रामदेव ने उस समय हद पार कर दी जब उन्होंने दावा किया कि उनके पास कोविड-19 का उपचार है।

उन्होंने आधुनिक चिकित्सा पद्धति को मूर्खतापूर्ण एवं दिवालिया विज्ञान कहकर बदनाम किया।भ्रामक विज्ञापनों को लेकर पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट द्वारा रामदेव और उनकी औषधि कंपनी पतंजलि आयुर्वेद को फटकार लगाए जाने के बाद आइएमए की यह पहली टिप्पणी है। सुप्रीम कोर्ट में 30 अप्रैल को मामले की सुनवाई होने वाली है।

Related posts

अगर अच्छे खानपान और गहरी नींद के बावजूद भी आप दिनभर थका हुआ महसूस करते है तो ये सभी आपके शरीर में अंदरूनी बीमारियों के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं.

doonprimenews

1 साल से छोटे बच्चों को कभी नहीं खिलाएं ये 7 चीजें, होता है इतना बड़ा नुकसान

doonprimenews

जानिए भारत में कब तक आ सकती है बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन, एम्स के डॉक्टर ने दी इससे जुड़ी कुछ खास जानकारियां

doonprimenews

Leave a Comment