Doon Prime News
uttarakhand

Agnipath Scheme को लेकर उत्तराखंड में भी बवाल शुरू, सड़कों पर उतरे युवा, यहां किए गए प्रदर्शन

Agnipath

देश की Defence Minister Rajnath Singh द्वारा अग्निवीर भर्ती योजना और जहां पूरे देश में दो दिन पहले शुरू किया गया था। हालांकि, वही जिसके बाद अब उसका पूरे देश में विरोध युवाओं के द्वारा किया जाने लगा है । Uttarakhand के खटीमा में भी सैकड़ों युवाओं द्वारा खटीमा नगर की सड़कों पर उतर कर Central Government की अग्निवीर भर्ती योजना का जोरदार विरोध किया गया। इस अवसर पर सैकड़ों की संख्या में युवाओं में जहां खटीमा नगर में जुलूस निकालकर विरोध प्रदर्शन किया, तो वही खटीमा मुख्य चौक पर Government की इस योजना के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की गई। साथ ही युवाओं द्वारा खटीमा तहसील पहुंचकर प्रशासन की मदद से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेज इस योजना को जल्दी से जल्दी वापस लिए जाने की भी मांग की गई।

तो वही साथ ही इस अवसर पर आक्रोशित युवाओं द्वारा कहा गया कि पूरे देश में युवा सरकार की अग्निवीर भर्ती योजना का विरोध किया जा रहा हैं। देशभर का युवा सरकार से मांग करता है कि इस योजना को जल्दी से जल्दी Government वापस ले। प्रदर्शन कारी युवाओं द्वारा कहा गया की पिछले 2 साल से वह सेना भर्ती की लिखित परीक्षा का भी इंतजार कर रहे हैं लेकिन Government द्वारा लिखित परीक्षा को रद्द कर पूरे देश में TOD योजना को लागू कर दिया गया है, जो कि देश के युवाओं के विरोध में है। वही, युवाओं का कहना है की जब तक Government TOD को वापस पूर्व में भर्ती प्रक्रिया का रिटन नहीं कराती है देश भर में युवा केंद्र सरकार की TOD योजना के विरोध में धरना प्रदर्शन करते रहेंगे।

Central Government द्वारा सेना भर्ती के लिये शुरू किये गये TOD यानि Agnipath का युवाओ द्वारा विरोध शुरू कर दिया गया है। Pithoragadh में हजारों की तादाद में सड़कों पर उतरे युवाओं ने Government के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की और Government से TOD वापस लेने की मांग की । वही, युवाओं का यह भी कहना है कि वे कई सालों से सेना भर्ती की तैयारी कर रहे हैं ऐसे में Government ने पुरानी भर्ती को रद्द कर Agnipath योजना शुरू की है, जो युवाओं के साथ सरासर अन्याय और धोखा है। जिसको देखते हुए युवाओं द्वारा जल्दी ही TOD योजना वापस नहीं लेने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी देते हुए कहा गया कि अगर Government युवाओं के खिलाफ काम करेगी और उन्हें धोखा देगी तो वे पूरे देश भर में उग्र आंदोलन करने को बाध्य होंगे।

यह भी पढ़े- भोजपुरी हीरोइनों ने मचाया धमाल, शेयर कर डाली बेहद ही हॉट फोटोज, फैंस देखकर हुए पागल

वही Harish Rawat बोले Agnipath भारतीय रक्षा सेनाओं में विशेष तौर पर थल सेना में दो Lakh से अधिक पद रिक्त पड़े हुए हैं। देश के लाखों युवा जो सेना में भर्ती होने का सपना पाले हुए हैं, इसके लिए वर्षों से तैयारी कर रहे हैं। Government द्वारा आलोचना से बचने के लिए उनको एक झुनझुना थमा दिया गया है कि आप भर्ती नहीं कर रहे हैं! वह Agnipath भी नाम तो बहुत जबरदस्त रखा, वह वीर जरूर होंगे। लेकिन Government ने उनको अग्निपथ का राही बना दिया है, क्योंकि 4 साल के बाद उनके जीवन की क्या कार्य योजना होगी उसके विषय में कोई स्थिति स्पष्ट नहीं है और सेना के साथ एक बार उनके सपने को जोड़ने के बाद आप 4 साल बाद उनके सपनों को तोड़ेंगे, इसका हमारी युवा शक्ति पर बहुत दुष्प्रभाव पड़ेगा और साथ-साथ आप हमारे उच्च दक्षता प्राप्त सेना के साथ जो है आधी-अधूरी ट्रेनिंग के आधार पर लोगों को यदि समाहित करेंगे, तो इससे सेना की Quality पर क्या असर पड़ेगा? इसलिए उस पर Government को गंभीरता से विचार करना चाहिए। मुझे तो यह अग्निपथ वीर जो है, केवल एक चुनावी योजना मात्र लगती है और किसी भी तरीके से न नौजवानों के हित में है, न देश की रक्षा के हित में दिखाई देती है!

Related posts

विधि विधान के साथ केदारनाथ धाम के कपाट कल सुबह 8.30बजे होंगे बंद, शुरू हुई कपाट बंद करने की प्रक्रिया

doonprimenews

देर रात विधानसभा अध्यक्ष को सौंपी गई विधानसभा भर्ती मामले की जांच रिपोर्ट, 250 नियुक्तियों को किया गया रद्द, विधानसभा सचिव को किया सस्पेंड

doonprimenews

यूकेएसएससी पेपर लीक मामले में हुई सबसे बड़ी कार्रवाई, पूर्व चेयरमैन आरबीएस रावत को किया गया गिरफ्तार

doonprimenews

Leave a Comment