Doon Prime News
dehradun

देहरादून पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 3 घंटे के अंदर दो नाबालिग बच्चों को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया।

देहरादून पुलिस

देहरादून से एक बड़ी खबर सामने आई है खबर के अनुसार बताया गया है कि दिनांक 21/07/22 को कोतवाली डोईवाला पर वादी के द्वारा लिखित तहरीर दी कि उनकी तथा उनके दोस्त की नाबालिग पुत्रियों उम्र क्रमशः 13 वर्ष तथा 10 वर्ष को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा अपहरण कर लिया गया है। उक्त लिखित तहरीर के आधार पर तत्काल कोतवाली डोईवाला पर मु0अ0सं0: 246/22 धारा 363 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत करते हुए घटना के सम्बन्ध में उच्चाधिकारिगणों को अवगत कराया गया।

वहीं, नाबालिग बच्चियों के अपहरण की घटना की गम्भीरता के दृष्टिगत श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदय द्वारा पुलिस अधीक्षक ग्रामीण के पर्यवेक्षण में थाना डोईवाला पर अलग-अलग टीमों का गठन करते हुए तत्काल् अभियुक्तों की गिरफ्तारी तथा बच्चियों की सकुशल बरामदगी के लिये निर्देश निर्गत किये गये।

पुलिस द्वारा की गयी कार्यवाही:-
बता दें कि श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदय के निर्देशानुसार गठित टीमों द्वारा घटना स्थल के आस-पास के सीसीटीवी कैमरों को चैक करते हुए मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया तथा आस-पास के थानों को घटना के सम्बन्ध में अवगत कराते हुए संदिग्ध वाहनों/व्यक्तियों की प्रभावी चैकिंग की गयी। पुलिस द्वारा की गयी त्वरित कार्यवाही के परिणाम स्वरूप गठित टीमों द्वारा चैकिंग के दौरान श्यामपुर फाटक के पास मोटर साइकिल सवार एक व्यक्ति राजकुमार पुत्र काशी महतो काशी को हिरासत में लेकर उसके पास से दोनो अपहृत नाबालिग बच्चियों को बरामद किया गया। गिरफ्तार अभियुक्त को मां0 न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

नाम/पता गिरफ्तार अभियुक्त:-
राजकुमार पुत्र काशी महतो काशी निवासी गांव मंगोलपुर खाना महमूदपुर जिला गोपालगंज बिहार हाल पता: सदन कुमार गली नंबर 1, शीशम झाड़ी, थाना मुनिकीरेती, टिहरी गढ़वाल, उम्र 35 साल।

पूछताछ का विवरण:-
आपको बता दें कि पूछताछ में अभियुक्त राजकुमार द्वारा बताया गया कि, मै मूल रूप से जिला गोपालगंज बिहार का रहने वाला हूँ तथा कुछ दिन पूर्व ही काम की तलाश में उत्तराखण्ड आया था तथा वर्तमान में मुनिकीरेती क्षेत्र मंे किराये पर रह रहा था। काम की तलाश में इधर-उधर घूमने के दौरान आज जब मैं डोईवाला से वापस मुनिकीरेती की ओर जा रहा था तभी रास्ते में मुझे दो बच्चियां जाती हुई दिखाई दीं, जिन्हें देखकर मेरे मन में लालच आ गया और मैने सोचा कि यदि मैं इन बच्चियों का अपहरण कर किसी तरह बिहार ले जाऊ तो वहां मैं इन्हे बेचकर अच्छे पैसे कमा सकता हूँ। जिस पर मेरे द्वारा उक्त बच्चियों को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले जाने का प्रयास किया गया, पर जब वह नहीं मानी तो मैं उन्हें डरा-धमकाकर अपने साथ ले गया।

आगे कहा , मेरी योजना थी कि पहले उन बच्चियों को मुनिकीरेती में अपने किराये के कमरे में ले जाऊंगा तथा मामला शान्त होने पर उन्हें मौका देखकर बिहार ले जाऊंगा पर मुनिकीरेती पहुंचने से पहले ही श्यामपुर फाटक के पास पुलिस द्वारा मुझे गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस द्वारा की गयी त्वरित कार्यवाही की बच्चियों के परिजनों तथा स्थानीय जनता द्वारा भूरी-भूरी प्रशंसा की गयी। अभियुक्त के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

मार्गदर्शक अधिकारी
01- श्रीमती कमलेश उपाध्याय पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, देहरादून 02- श्री अनिल शर्मा( पुलिस उपाधीक्षक) डोईवाला जनपद देहरादून
पुलिस टीम:-
01:- श्री मनोज कुमार मनवाल (प्रभारी निरीक्षक कोतवाली डोईवाला)
02:- उप निरीक्षक विजेंदर कुमार (चौकी इंचार्ज लालतप्पड़)
03:- आरक्षी परवीन सिद्धू,
04:- महिला आरक्षी रचना रावत,
05- आरक्षी नवनीत (सीआईयू ऋषिकेश)

Related posts

उत्तराखंड में 300 केंद्रों पर हो रहा है 15 से 18 आयु वर्ग वालों का वैक्सीनेशन, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

doonprimenews

अब Almora से Dehradun और Pithoragarh जाना हुआ आसान, बस लगेंगे कुछ मिनट, जानिए कैसे

doonprimenews

सड़क हादसे में आर्मी जवान की मौत, छुट्टी पर आया था घर,जानिए कहा की है खबर

doonprimenews

Leave a Comment