Doon Prime News
uttarakhand

बड़ी खबर : Yashwant Sinha बने विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार, ये नेता कर चुके थे इनकार

Yashwant Sinha

देश के new President का Election 18 July को होना है, लेकिन President पद के उम्मीदवारों पर सभी की नजर बनी हुई है। बता दे की ऐसे में विपक्ष की तरफ से पूर्व Central Minister Yashwant Sinha को President कैंडिडेट बनाया गया है। Sinha 27 June की सुबह 11.30 बजे नॉमिनेशन दाखिल करेंगे।

बता दे की मंगलवार को विपक्ष की बैठक में TMC द्वारा Yashwant Sinha का नाम आगे बढ़ाया गया, जिसे विपक्ष के लगभग 19 दलों का समर्थन मिल। बैठक से पहले Sinha द्वारा Tweet किया गया कि TMC में उन्होंने मुझे जो सम्मान और प्रतिष्ठा दी, उसके लिए मैं Mamata Banerjee का आभारी हूं।

जिस पर उन्होंने आगे कहा कि अब एक समय आ गया है, जब एक बड़े राष्ट्रीय उद्देश्य के लिए मुझे Party से हटकर विपक्षी एकता के लिए काम करना चाहिए। मुझे यकीन है कि Party मेरे इस कदम को स्वीकार करेगी।

Mamata Banerjee द्वारा दी गई बधाई

वही, Sinha को बधाई देते हुए पश्चिम बंगाल की CM Mamata Banerjee द्वारा कहा गया की, ‘आगामी President Election के लिए सभी प्रगतिशील विपक्षी दलों के संयुक्त उम्मीदवार बनाए जाने पर Yashwant Sinha Ji को बधाई। वे कुशाग्र बुद्धि के व्यक्ति हैं, जो निश्चित रूप से हमारे राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करने वाले मूल्यों को बनाए रखेंगे।

Sinha द्वारा TMC से दिया गया इस्तीफा

जानकारी के मुताबिक तृणमूल Congress के शीर्ष नेताओं ने इस मामले पर चर्चा करने के बाद Sinha ने प्रस्ताव पर सहमति जताई गई। वही, Yashwant Sinha द्वारा बैठक से पहले एक Tweet कर बड़े राष्ट्रीय कारणों के लिए Party के काम से अलग हटने की घोषणा की गई। इसके साथ ही उन्होंने Party से इस्तीफा दे दिया है।

इससे पहले पवार-अब्दुल्ला इनकार कर चुके हैं।

शरद पवार, फारुख अब्दुल्ला और गोपाल कृष्ण गांधी विपक्ष के ऑफर को ठुकरा चुके हैं। Mahatma Gandhi के पोते Gopal Krishan Gandhi ने सोमवार को ही विपक्ष के नेताओं को राष्ट्रपति पद के लिए उनका नाम सुझाने पर धन्यवाद देते हुए चुनाव लड़ने न लड़ने की इच्छा जताई थी। ऐसे में अब विपक्ष ने Yashwant Sinha को मैदान में उतारने का फैसला किया है। Yashwant Sinha भाजपा का दामन छोड़कर TMC में शामिल हुए थे।

यह भी पढ़े-

इस पर क्या कहा था फारुक अब्दुल्ला ने?

पहले विपक्ष national conference के नेता फारुक अब्दुल्ला का नाम आगे बढ़ाना चाह रहा था, हालांकि उससे पहले फारुक द्वारा एक बयान में कहा गया कि वह Mamata Banerjee के आभारी हैं कि उन्होंने President Election के लिए उनके नाम को आगे बढ़ाया और साथ ही उन नेताओं को भी धन्यवाद जिन्होंने समर्थन देने का वादा किया है। ये कहकर उन्होंने कैंडिडेट बनने से साफ़ इनकार कर दिया था।

Related posts

आज आएगा उत्तराखंड के वीर सपूत Chandrashekhar Herbola का पार्थिव शरीर, राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा अंतिम संस्कार

doonprimenews

आज है पुलवामा अटैक की तीसरी बरसी, 40 जवानों ने गवाई थी जान, जानिए उस दिन की पूरी कहानी

doonprimenews

बदलने वाला है मौसम का मिजाज,क्या बर्फबारी के साथ हो सकती है नए साल की शुरुआत? जाने क्या कहता है मौसम विभाग

doonprimenews

Leave a Comment