Doon Prime News
uttarakhand

आज है पुलवामा अटैक की तीसरी बरसी, 40 जवानों ने गवाई थी जान, जानिए उस दिन की पूरी कहानी

आज है पुलवामा अटैक को तीसरी बरसी, 40 जवानों ने गवाई थी जान, जानिए उस दिन की पूरी कहानी

Pulwama Attack : आज जिस दिन को दुनिया प्यार के दिन के रूप में मनाते है वो दिन आज से ठीक 3 साल पहले भारत के लिए काला दिवस बन गया। इस दिन एक आतंकी हमले में भारत ने अपने देश के 40 वीर जवानों को खो दिया। चलिए जानते है क्या हुआ था 14 फरवरी 2019 को।

क्या हुआ था 14 फरवरी 2019 को

14 फरवरी 2019 को हमेशा की तरह ड्यूटी के बाद CRPF का काफिला जम्मू से श्रीनगर की तरफ मूव कर रहा था।इस काफिलीन शाम तक श्रीनगर पहुंचना था। सेना के इस काफिले में 78 गाडियां शामिल थी। इन 78 गाड़ियों में सेना के 2500 जवान शामिल थे। जवानों का काफिला NH-44 से गुजरने वाला था, और दो दिन से सड़क खराब होने के कारण काफिले में सैनिक भी बहुत थे।

ये भी पढ़ें- यहां मिल रही है एक शराब की बोतल के साथ एक बोतल फ्री, ऑफर सुनते ही दुकानों का हो गया ऐसा हाल

जब सेना के जवानों का काफिला श्रीनगर पहुंचना था लेकिन जब गाड़ी पुलवामा पर पहुंची थी तभी कुछ ऐसा हुआ जिसने पूरे देश को हिला कर रख दिया। जब गाड़ी पुलवामा पर थी तो एक आतंकी आदिल अहमद डार भारी विस्फोटकों से लदे वाहन के साथ आता है और गाड़ी को टक्कर मार देता है जिससे भयानक धमाका होता है  और दोनों वाहनों के परखच्चे उड़ जाते है,जिसमें 40 लोगों की जान चली जाती है।

इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने ली थी।इस घटना के बाद भारतीय वायुसेना ने इन आतंकियों के घर में घुसकर इनसे बदला लिया था।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए  यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें. व्हाट्सएप ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें,

Share this story

Related posts

कम्युनिस्ट पार्टी पर लगा RSS Office में बम फेंकने का आरोप, पुलिस ने दी घटना की जानकारी।

doonprimenews

उत्तराखंड में यहां हुआ सुबह- सुबह बड़ा सड़क हादसा, SDRF टीम द्वारा किया गया सफल रेस्क्यू।

doonprimenews

वन विभाग के इन आईएफएस अधिकारियों से विजिलेंस कर रही घंटो -घंटो तक पूछताछ, जाने क्या है पूरा मामला

doonprimenews

Leave a Comment