Doon Prime News
Uncategorized

कठुआ जिले के हीरानगर इलाके के सैडा सोहल गांव में आतंकी मुठभेड़: एक पाकिस्तानी आतंकी ढेर, सुरक्षा बल सतर्क

कठुआ जिले के हीरानगर इलाके के सैडा सोहल गांव में मंगलवार की रात आतंकियों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी आतंकी को मार गिराया गया। इस दौरान आतंकियों की फायरिंग में एक व्यक्ति घायल हो गया। घटना के बाद, परिवार के सदस्यों ने किसी तरह सुरक्षा बलों को सूचना दी, जिसके बाद सुरक्षाबल मौके पर पहुंचे और एक आतंकी को ढेर कर दिया। अन्य आतंकियों की तलाश में ऑपरेशन जारी है।

रात को अचानक आतंकियों ने एक घर में घुसपैठ की और फायरिंग शुरू कर दी। इस फायरिंग में एक व्यक्ति घायल हो गया। घायल व्यक्ति को पहले उपजिला अस्पताल हीरानगर ले जाया गया, फिर वहां से जीएमसी कठुआ रेफर कर दिया गया। घायल व्यक्ति, ओमकार, ने बताया कि अचानक धमाके की आवाज सुनकर परिवार के सदस्य दरवाजे बंद कर घर के अंदर चले गए थे। भागते वक्त ओमकार के बाजू में गोली लगी।

सुरक्षा बलों को सूचना मिलते ही वे तुरंत मौके पर पहुंचे। आतंकियों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया गया। हालांकि, इस दौरान एक सीआरपीएफ का जवान भी घायल हो गया, जिसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, लेकिन जवान को बचाया नहीं जा सका। सुबह होते ही ऑपरेशन में तेजी लाई गई और आतंकियों की तलाश के लिए ड्रोन की भी मदद ली जा रही है।

एडीजीपी जम्मू, आनंद जैन, मौके पर पहुंचे और ऑपरेशन की निगरानी की। उन्होंने एक आतंकी के मारे जाने की पुष्टि की और बताया कि दूसरे आतंकी की तलाश जारी है। उन्होंने यह भी कहा कि आतंकियों ने हाल ही में घुसपैठ की थी और वे हथियारों से लैस थे।

प्रत्यक्षदर्शी अश्वनी कुमार शर्मा ने बताया कि गांव के कुछ युवाओं ने आतंकियों को देखा था। अश्वनी भी उस समय गांव की गली में थे जब दो हथियारबंद लोगों ने हिंदी में बात करते हुए पानी पिलाने को कहा। अश्वनी ने उनके हाथ में ए के 47 देखकर समझ लिया कि ये आतंकी हैं और तुरंत गांव में चिल्लाया कि आतंकी आ गए हैं। इसके बाद सभी लोग अपने घरों में भाग गए।

सैडा सोहल और आसपास के दर्जनों गांवों में दहशत का माहौल रहा। रात आठ बजे आतंकी गोलीबारी की वारदात का पता चलते ही कई इलाकों में सन्नाटा छा गया। कूटा बाजार से लेकर कूटा मोड़ तक दुकानों को बंद कर दिया गया। सैडा सोहल के जो लोग अन्य क्षेत्रों में दुकानें करते थे, वे भी जल्दी घरों को लौट आए।

आईबी से घुसपैठ के पुराने रूट में कठुआ-सांबा की सरहद पर बहता बेई नाला भी शामिल है। जिस जगह आतंकियों ने वारदात को अंजाम दिया, वह हाईवे से लगभग आठ किलोमीटर की दूरी पर है, लेकिन जंगल के रास्ते यह इलाका हाईवे से तीन से चार किलोमीटर की दूरी पर ही स्थित है। बेई नाले से सटे सैडा सोहल में आतंकियों की दस्तक ने साफ कर दिया है कि दहशतगर्दों ने घुसपैठ के लिए अंतराष्ट्रीय सीमा से फिर कोई नया पैंतरा अपना लिया है।

लगभग डेढ़ माह पहले ही आतंकियों के एक दल ने बसंतगढ़ में वीडीजी सदस्य की हत्या कर दी थी। कई दिनों तक ढग्गर से लेकर बसंतगढ़ के इलाके में सर्च के बाद भी उनका कोई सुराग नहीं लगा। ऐसा माना जा रहा है कि घुसपैठ कर आए आतंकियों का यह नया दल था।

Related posts

Vegetable Price Hike: उत्तराखण्ड सब्जियों के दाम आसमान छूने लगे: आम आदमी की रसोई पर महंगाई का तड़का

doonprimenews

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में बड़ा हादसा: टैंपो ट्रैवलर अलकनंदा नदी में गिरा, 15-16 यात्री सवार

doonprimenews

जमानत पर छूटे अपराधियों की धमकी: “मुकदमे का फैसला करो, वरना पूरे परिवार को खत्म कर देंगे”

doonprimenews

Leave a Comment