Doon Prime News
tech

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

मृदुल नेगी, दून प्राइम न्यूज़, देहरादून।

स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले कुछ जरूरी बातें। भारत में स्मार्टफोन टेक्नालॉजी बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है ऐसे में किसी भी स्मार्टफोन को खरीदने से पहले ये 8 जरूरी बातें जान ले।

स्मार्टफोन टेक्नोलॉजी वर्तमान समय में बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है। मोबाइल में सब कुछ उन्नत और स्मार्ट हो गया है। हर दिन हमें स्मार्टफ़ोन की दुनिया में अलग, नए और अनोखे इनोवेशन देखने को मिलते हैं। कंपनियां नियमित रूप से कई प्रकार के उपकरणों को लॉन्च करती रहती हैं।आज हमारा मोबाइल हमारा सबसे अच्छा दोस्त बन गया है, मोबाइल के नोटिफिकेशन चेक किये बिना हम अपना दिन शुरू नहीं करते।

कोई भी नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले आपको निम्नलिखित बातों पर ध्यान देना चाहिए :

1. स्मार्टफोन की Build Quality

         आज स्मार्टफोन ब्रांड आपको फोन में अलग-अलग डिजाइन प्रदान करते हैं। कुछ प्लास्टिक (पॉलीकार्बोनेट) के साथ निर्मित होते हैं जबकि कुछ धातु और कांच से निर्मित होते हैं। अधिकांश समय ग्लास निर्मित फोन प्रीमियम और भव्य दिखते हैं। लेकिन ऊंचाई से गिरने पर ग्लास टूट सकता है (इसलिए गोरिल्ला ग्लास 3 या इसके ऊपर सुरक्षा पसंद करें)। धातु के बने फोन भी अच्छे होते हैं लेकिन उनका वजन अधिक होता है जबकि प्लास्टिक वजन और कीमत को कम करने में मदद करता है।

         आजकल कंपनियां स्मार्टफोन्स में बेजल्स को हटाने की कोशिश कर रही हैं, इसीलिए नई तकनीक जैसे नॉच, पॉप-अप कैमरा, पंच-होल और अब अंडर डिस्प्ले कैमरा टेक्नोलॉजी ट्रेंड में है। कुछ कंपनियों ने अतीत में फ्लिप और स्लाइडिंग कैमरों की भी पेशकश की।

2021 में स्मार्टफोन में टाइप-सी पोर्ट जरूर होना चाहिए। स्मार्टफोन में हेडफोन जैक का होना फायदेमंद होगा। ट्रिपल स्लॉट (2 सिम + 1micro एसडी कार्ड) के साथ समर्पित सिम ट्रे सबसे अच्छा है, अगर फोन में पर्याप्त स्टोरेज है जैसे की 128Gb या 256Gb तो हाइब्रिड स्लॉट भी काम कर सकता है। फिंगरप्रिंट स्कैनर रेस्पॉन्सिव व् अच्छे से काम करने वाला होना चाहिए फिर चाहे वो बैक में हो ,साइड में या स्क्रीन के अंदर।

* फोल्डिंग स्मार्टफोन भी आजकल बाजार में उपलब्ध हैं लेकिन ये काफी महंगे हैं।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

2. ऑपरेटिंग सिस्टम

     यह एक विवादास्पद विषय है क्योंकि कुछ लोग स्टॉक एंड्रॉइड पसंद करते हैं जबकि कुछ लोग कस्टम मेड UI (जैसे कि Oxygen OS, MIUI, One UI आदि) चाहते हैं।

हमारा सुझाव है कि यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं जो अपने मोबाइल पर विज्ञापन और ब्लोटवेयर नहीं देखना चाहते हैं या आप अपने माता-पिता और दादा-दादी के लिए फोन चाहते हैं, तो आपको स्टॉक एंड्रॉइड (उपयोग में आसान) के साथ जाना चाहिए, लेकिन यदि आप अधिक कस्टमाइज़ेशन और अतिरिक्त सुविधाएं चाहते हैं तो आप कस्टम UI चुने।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

3. प्रोसेसर

एक बेहतर प्रोसेसर फास्ट और लैग फ्री होगा जबकि पुराना प्रोसेसर लैग्स और स्लो  प्रोसेसिंग का कारण बन सकता है।

प्रोसेसर 5/7/8/10/14 nm पर आधारित हो सकता है ….. कम नैनोमीटर अधिक कुशल प्रोसेसर होता है।

विभिन्न कंपनियों के प्रोसेसर बाजार में मौजूद हैं। आमतौर पर Snapdragon या Mediatek के प्रोसेसर स्मार्टफोन्स में इस्तेमाल होते हैं। वहीँ कुछ कम्पनिया (जैसे की सैमसंग) अपने खुद के बनाये प्रोसेसर इस्तेमाल करते हैं।

आप प्रोसेसर की शक्ति जानने के लिए ANTUTU बेंचमार्क स्कोर (उपलब्ध एप्लिकेशन) की जांच और तुलना कर सकते हैं।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

4. डिस्प्ले

    बाजार में मुख्य रूप से तीन प्रकार के डिस्प्ले पैनल हैं:

    (i) टीएफटी (बहुत पुरानी तकनीक, डील ब्रेकर)

   (ii) IPS LCD (फाइन एंड बजट फ्रेंडली)

   (iii) Amoled/OLED (जीवंत रंग, प्राकृतिक काले, बेहतर देखने के कोण, सर्वोत्तम लेकिन महंगे)

    डिस्प्ले Resolution : स्मार्टफोन के डिस्प्ले में रेसोलुशन जानना बहुत जरुरी होता है। आजकल बाजार में HD+ (720p), FHD+ (1080p), QHD+ (2k) डिस्प्ले आम हैं।  जितना ज्यादा किसी फ़ोन के डिस्प्ले का रेसोलुशन होता है वो डिस्प्ले उतना अच्छा माना जाता है।

   डिस्प्ले साइज – डिस्प्ले का साइज पूरी तरह से आपके स्वाद पर निर्भर करता है, अगर आप ज्यादा वीडियोस देखते हैं या गेम खेलते हैं तो आपको 6.4-6.8 इंच का डिस्प्ले साइज लेना चाहिए , यदि आप कॉम्पैक्ट और लाइट वेट स्मार्टफोन पसंद करते हैं, तो 5.8 – 6.2 इंच डिस्प्ले लेने की कोशिश करें।

  रिफ्रेश रेट : फ़ोन में आमतौर पर 60 Hz, 90 Hz या 120 Hz रिफ्रेश रेट होता है।  रिफ्रेश रेट यह बताता है की 1 सेकंड में फ़ोन का डिस्प्ले कितने बार रिफ्रेश होता है, इसीलिए रिफ्रेश रेट जितना ज्यादा हो उतना ही अच्छा होता है।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

5. कैमरा

     कई लोगों द्वारा माना जाता है कि अधिक मेगापिक्सेल का मतलब बेहतर कैमरा है लेकिन वास्तव में यह वास्तविकता नहीं है। एक बेहतर छवि गुणवत्ता के लिए अच्छी छवि सेंसर, बड़े पिक्सेल आकार और सबसे महत्वपूर्ण AI आधारित छवि प्रसंस्करण सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होती है।

  आप केवल फोटोज को देखकर के नमूनों को देखकर ही कैमरा चेक कर सकते हैं (एक बात याद रखें कि कंपनी की वेबसाइट पर कभी भी छवि नमूनों की जांच न करें, इसके बजाय आप ई-कॉमर्स साइट के उत्पाद पृष्ठ पर लोगों द्वारा खींची गयी फ़ोटो देख सकते हैं)।

OIS (Optical Image Stabilization) और EIS (Electronic Image Stabilization) के साथ कैमरा स्थिर वीडियो रिकॉर्ड करता है। यदि फोन 4K वीडियो रिकॉर्डिंग सपोर्ट करता है, तो यह सराहनीय है, हालांकि कुछ फोन 8k वीडियो रिकॉर्ड कर सकते हैं, लेकिन व्यावहारिक रूप से अधिकांश समय उपयोगी नहीं हैं।

ज्यादातर मोबाइल कैमरा 4K 60fps / 30fps या 1080p 120fps पर सपोर्ट करता है। अधिक fps का अर्थ है प्रति सेकंड कैमरा कितने फ्रेम रिकॉर्ड करता है।

फोन में प्राइमरी कैमरा + अल्ट्रावाइड कैमरा + टेलीफोटो (जूम) होना बढ़िया है। लेकिन सिंगल कैमरा वाले कई फोन भी अपने अद्भुत सॉफ्टवेयर ऑप्टिमाइजेशन की मदद से बाजार में अपना दबदबा बना रहे हैं। इसके सबसे सटीक उदाहरण एप्पल और गूगल हैं

2-2 mp के मैक्रो कैमरा और डेप्थ कैमरा कुछ स्मार्टफोन्स में उपलब्ध है, लेकिन इसका कुछ ख़ास उपयोग नहीं होता ।

फ्रंट कमरे में प्राइमरी कैमरा + अल्ट्रावाइड लेंस सबसे अच्छा होता है।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

यह भी पढ़े: महाराष्ट्र में हुआ दर्दनाक हादसा, अस्पताल में लगी आग, 10 नवजात बच्चों की मौत

6. रैम और रोम

    4/6 जीबी रैम सामान्य उपयोग के लिए पर्याप्त है और गेमर्स 8/12 जीबी रैम विकल्प के लिए जा सकते हैं।

    LPDDR 5X रैम सबसे अच्छा है लेकिन LPDR 4X भी ठीक काम करेगा।

   ROM यानी स्टोरेज के लिए 128 जीबी आदर्श है लेकिन अगर आप ज्यादा पैसा खर्च कर सकते हैं तो 256 जीबी के साथ जा सकते हैं।

   UFS 2.1, 3.0 और 3.1 स्टोरेज के प्रकार अच्छे होते है। UFS 3.1 सबसे फ़ास्ट होता है।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

7. ध्वनि

   स्टीरियो स्पीकर (डुअल स्पीकर) को प्राथमिकता दी जानी चाहिए लेकिन यह ज्यादातर प्रीमियम फोन में उपलब्ध हैं।

इयरपीस की आवाज तेज होनी चाहिए ताकि कॉल पर आवाज साफ़ सुनाई दे (ई-कॉमर्स साइटों पर समीक्षा देखें)।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

8. बैटरी और चार्जिंग

   एक कुशल प्रोसेसर के साथ 4000 mAh की बैटरी एक सामान्य उपयोगकर्ता के लिए एक दिन पूरा चल जाएगी, जबकि उच्च खपत वाले उपयोगकर्ताओं को 4500/5000/6000 mAh बैटरी के साथ जाना चाहिए।

Li-Po बैटरी Li-ion बैटरी से बेहतर होती हैं।

आजकल Qualcomm Quick चार्ज, फ्लैश चार्ज, warp चार्ज, dash चार्ज आदि जैसी विभिन्न फास्ट चार्जिंग तकनीकें बाजार में उपलब्ध हैं।

एक 18/15 Watt फास्ट चार्जर काफी अच्छा है, हालांकि 30 W या 65 W चार्जर भी आजकल उपलब्ध हैं।

* कुछ प्रीमियम फ्लैगशिप फोन वायरलेस चार्जिंग भी प्रदान करते हैं।

ये कुछ ऐसे विषय थे जिन पर आपको स्मार्टफोन खरीदते समय विचार करना चाहिए। इन सबके अलावा हर फोन का अपना USP (यूनिक सेलिंग पॉइंट) होता है जैसे OnePlus फोन में ऑक्सीजन OS और अलर्ट स्लाइडर, Google Pixel फोन में बेहतरीन  इमेज प्रोसेसिंग, Asus 6z में फ्लिप कैमरा, Vivo X50 प्रो में गिम्ब्ल मैकेनिज्म, सैमसंग फ्लैगशिप में 100X ज़ूम, Xiaomi फोन में IR ब्लास्टर, Asus Rog फोन 3 में एयर ट्रिगर्स, Motorola / Nokia फोन में स्टॉक एंड्रॉइड, IPhones में नियमित अपडेट आदि।

नया स्मार्टफोन खरीदने से पहले जान ले ये 8 जरुरी बातें।

  तो उम्मीद है, अब आप अपनी जरूरत  के हिसाब से सही स्मार्टफोन खरीद पाएंगे ।

Related posts

कम बजट में ले जाएं यह 15000 से कम कीमत वाले स्मार्ट टीवी, जानिए इनके शानदार फीचर्स के बारे में खास जानकारी

doonprimenews

Boat अपने earbuds पर लाई शानदार Offer, प्राइस जानकर आप फटाफट कर देंगे order।

doonprimenews

भारत में लांच हुए realme X7 व realme X7 pro,सस्ते में मिलेगा 5G का मजा.

doonprimenews

Leave a Comment