Doon Prime News
religion

जाने मकर सक्रांति पर किन पाँच ग्रहों का बन रहा विशेष योग।


जाने मकर सक्रांति पर किन पाँच ग्रहों का बन रहा विशेष योग।

हिमांशी बिष्ट, शताक्षी कन्याल, दून प्राइम न्यूज़, देहरादून।

मकर सक्रांति पर बन रहा पाँच ग्रहों का विशेष योग। राशि के अनुसार ऐसे करें दान।

मकर सक्रांति 2021: पाँच ग्रहों का बन रहा विशेष योग, मकर सक्रांति पर राशि के अनुसार ऐसे करें दान.इस साल मकर संक्रान्ति 14जनवरी को मनाई जाएगी। मान्यता के अनुसार सूर्य के मकर राशि मे प्रवेश करने पर संक्रांति का योग बनता है। इस दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि मे प्रवेश करेगे। इस के साथ ही खरमास का भी समापन होगा।

खरमास नाम इसलिए दिया ताकी संस्कारी कामों से मुक्त होकर पूरे महीने लोग आध्यात्मिक लाभ के लिए काम करें । 02:05 बजे सूर्य अपनी चाल बदल कर धनु से मकर पर प्रवेश करेगे। ज्योतिश्चर्य के अनुसार इस दिन राशी के अनुसार दान करना लाभकारी होगा। इस दिन किसान भगवान से अपनी अच्छी फस्लो के लिए आशीर्वाद मांगते है। इसलिये यह त्योहार किसानो और फस्लो के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन किये जाने वाले दान को श्रधा के नाम से जाना जाता है।

इस दिन मेष राशि के जातकों को तांबे की वस्तुओ का दान करना चाहिए। मिथुन राशि वालो को इस दिन सब्जियों का दान करना चाहिए। वृश्चिक राशि वालो को चांदी से बनी वस्तु का दान करना लाभकारी होगा। कर्क राशि के लिए सफेद रंगों का उन कोकोदान करना फलकारी होगा। कन्या राशी के लिए हरे मूंग की दाल की खिचड़ी दान लाभकारी होगी। सिंह राशि वालो को गुड का दान करना चाहिए। तुला राशि वालो को सात प्रकार के अनाज का दान करना लाभकारी होगा।

वृश्चिक राशि वालो को कपड़ो का दान करना चाहिए। धनु राशि के जातको के लिए दाल और कपड़े का दान लाभकारी होगा। मकर राशि वालो के लिए काले कपड़ो का दान लाभकारी होगा। कुंभ राशि वालो को घी का दान करना चाहिए और मीन राशि के जातको का चने की दाल का दान करना लाभ दायक होगा।

यह भी पढ़े: फैशन डिजाइनिंग विभाग के छात्रों ने किया जीबीकेसी फैशन कंपनी का भ्रमण।

ज्योतिशाचार्य पंडित ने बताया की मकर संक्रांति का पुरनाकाल सूर्योदय से सूर्यास्त तक रहेगा। सूर्यदय सुबह 7:21 पर और सूर्यास्त शाम 5:50 पर होगा। इस वर्ष गुरुवार के दिन जब सूर्य मकर राशि मे पर्वेश करेगे तब पांच गृहों का एक विशेष योग बनेगा। इस बार संक्रांति मे सिंह पर सवार होकर वैश्य के घर मे प्रवेश कर रही है। संक्रांति का उपवाहन हाथी है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए  यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें. व्हाट्सएप ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें,

Share this story

Related posts

उत्तराखंड: इस बार गणतंत्र दिवस को, राजपथ में दिखेगी बाबा केदार और केदारघाटी की झांकी।

doonprimenews

जाने क्या है अहोई अष्टमी की मान्यता,धूमधाम से मनाई गया यह त्योहार : Ahoi Ashtami

doonprimenews

अयोध्या में नही निकलेगी राम बारात,जाने क्या है कारण, हर 5 साल बाद निकलती है राम बारात

doonprimenews

Leave a Comment