Doon Prime News
nation

कन्हैयालाल के दोनो हत्यारों का अजमेर से था कनेक्शन, अजमेर पुलिस ने सभी संवेदनशील क्षेत्रों में बढ़ाई सुरक्षा।

उदयपुर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है खबर के मुताबिक बताया गया है कि उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल की निर्मम हत्या करने के आरोपी रियाज अत्तारी और गौस मोहम्मद का अजमेर कलेक्शन मिलने के बाद पुलिस अलर्ट पर है अजमेर पुलिस ने सभी संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी है इधर बीती देर रात हत्यारे रियाज और गौस मोहम्मद को अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में लाया गया है कड़ी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच हत्यारों को उदयपुर से अजमेर पहुंचाया गया है मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों द्वारा उकसाने वाले बयान और वीडियो वायरल होने पर स्थानीय पुलिस ने कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है इन लोगों ने दरगाह ख्वाजा साहब के गेट के बाहर खड़े होकर भीड़ को उकसाने वाले आपत्तिजनक नारे लगाए थे

बता दें कि अजमेर सांप्रदायिक सौहार्द्र और भाईचारे की मिसाल कायम रखने वाला नगर है यहां गंगा जमुना संस्कृति को तरजीह दी जाती है सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह और पुष्कर तीर्थ गुरु होने के खातिर हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लाखों लोग प्रतिदिन अजमेर धार्मिक व सामाजिक पर्यटन को आते हैं ऐसे हालात में अजमेर में आतंकी संगठनों से जुड़े लोगों की सामने आने पर अजमेर में पुलिस और खुफिया तंत्र बहुत ही सतर्कता बरतने लगा है पुलिस ने पिछले दो दिनों में अजमेर में विभिन्न स्थानों पर दबिश भी दी है

वहीं,पुलिस कुछ नामजद लोगों की तलाश भी कर रही है इधर आदर्श नगर थाना प्रभारी सुगंध सिंह के अनुसार कन्हैया लाल दर्जी के हत्यारे रियाज अत्तारी की अजमेर में रिश्तेदारी की सूचना मिलने पर रिश्तेदारों से बात की गई है थाना प्रभारी द्वारा बताया गया है कि रिश्तेदारों ने रियाज का विगत 3 सालों से उनसे संपर्क नहीं होने की जानकारी दी है रिश्तेदारी में रियाज की बहन और भांजे अजमेर के आदर्श नगर थाना क्षेत्र के रहने वाले बताए गए हैं यह बात खुद हत्यारे रियाज ने भी जांच एजेंसियों के समक्ष कुबूल किया है कि वे दर्जी कन्हैया लाल की हत्या के बाद अजमेर में फरारी काटने का इरादा रखते हैं

इसी के साथ अजमेर दरगाह पुलिस थाने के वित्तअधिकारी सुमित सारस्वत के मुताबिक भाजपा से निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में अजमेर में मुस्लिम समुदाय ने 17 जून को मौन जुलूस निकालने का ऐलान किया था इस जुलूस को दरगाह के मुख्य दरवाजे से शुरू होना था जुलूस के शुरू होने के दौरान भीड़ को भड़काने वाले नारे लगाने और भाषण देने का वीडियो वायरल होने के बाद खादिम मोहल्ला पन्नीग्रान चौक निवास फखर जमाली गुजरात राजकोट मोरबी निवासी रियाज हसन और अजमेर दरगाह बाजार फुलगली निवासी ताजिम सिद्दीकी जयपुर शास्त्री नगर हाल अजमेर दरगाह बाजार संजरी होटल निवासी मोइन खान पठान को पुलिस ने गिरफ्तार किया है

यह भी पढ़ें – *एक बार फिर से डराने लगा कोरोना का कहर, 17 हजार से ज्यादा मामले आए सामने।*

आपको बता दें कि अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल के अधीक्षक पारस जांगिड़ के मुताबिक कन्हैयालाल के हत्यारों को न्यायिक अभिरक्षा में भेजे जाने के बाद गुरुवार की रात करीब 2:30 पर रियाज और गोस मोहम्मद को अजमेर लाया गया है यहां उन्हें जेल के अंदर तीन स्तरीय सुरक्षा घेरे में अलग-अलग बेरकों में रखा गया है आरोपियों का मेडिकल भी जेल के अंदर ही कराए जाने को लेकर कवायद की गई है।

Related posts

बड़ी खबर: LPG cylinder के दामों में फिर भी हुई बढ़ोतरी, देखिए अब कितने रुपए का हुआ इजाफा।

doonprimenews

भारत के लिए 6 मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को लेकर आनंद महिंद्रा ने कही दिल छू लेने वाली बात

doonprimenews

इनकम टैक्स रिटर्न ऐसे करें फाइल, इन इन बातों का रखें ध्यान

doonprimenews

Leave a Comment