Doon Prime News
nation

यहां DAV स्कूल के बस ने स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम से वापस लौट रही एक बच्ची को बड़ी बुरी तरीका से कुचला

bodhgyaaccident

एक बड़ी खबर सामने आई है जिसमें बताया गया है कि डीएवी के स्कूल बस ने छात्रा को कुचल दिया। मृतका उसी स्कूल की छात्रा है। जो स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने गई थी। घटना की जानकारी मिलते ही मृतक छात्रा के परिजन स्कूल पहुंचे लेकिन स्कूल गार्ड ने गेट नहीं खोला।
ऐसे में हंगामा हो रहा है। परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर इस लापरवाही का आरोप लगाते हुए प्रिंसिपल की गिरफ्तारी की मांग की है।

बिहार के गया में 10 वर्षीय छात्रा को उसके ही स्कूल बस ने कुचला।
बिहार के गया में 10 वर्षीय छात्रा को उसकी ही स्कूल बस ने कुचल दिया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जिसके बाद मृतक छात्रा के घरवालों ने स्कूल पहुँचकर जमकर हंगामा खड़ा कर दिया। मामला बोधगया थाना क्षेत्र के कैंट एरिया रोड स्थित डीएवी पब्लिक स्कूल का है। यह हादसा उस वक्त हुआ जब छात्रा स्कूल में आयोजित स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे। घटना की जानकारी मिलते ही बोधगया डीएसपी अजय कुमार और बोधगया थानाध्यक्ष मौके पर पहुंचे।

छात्रा की मौत होने के बाद भी स्कूल के गेट नहीं खुले।
इस मामले में स्कूल प्रशासन की लापरवाही साफ देखने को मिल रही है। जब हादसे की जानकारी छात्रा के घरवालों को मिली तो वे रोते बिलखते स्कूल पहुंचे, लेकिन गार्ड ने स्कूल का गेट नहीं खोला। इस बीच छात्रा के परिजन गेट खुलवाने के लिए चीखते चिल्लाते रहे। छात्रा के चाचा शक्ति कुमार ने बताया कि स्कूल खुलने के बाद उन्होंने देखा कि उसकी भतीजी माही कुमारी 10 वर्षीय की मृत्यु हो चुकी थी और उसका शव लावारिस हालत में स्कूल परिसर में पड़ा हुआ था, जिसके बाद परिजनों ने हंगामा मचा दिया।

घरवालों ने स्कूल में किया हंगामा, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा
जानकारी के मुताबिक मृतक की पहचान बोधगया थाना क्षेत्र के बैजू भीगा की 10 वर्षीय माही कुमारी के रूप में हुई है। वह डीएवी विद्यालय में आयोजित स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में शामिल होने गई थी। इसके बाद घर को जाने के लिए डीएवी की बस की ओर जा रही थी। इसी क्रम में डीएवी स्कूल की बस ने उसे बेरहमी से कुचल दिया।

मौत की खबर मिलते ही छात्रा के परिजन स्कूल पहुँच गए इसके बाद स्कूल के पास ही सड़क जाम कर हंगामा करने लगे इधर घटना की जानकारी मिलते ही। बोधगया डीएसपी और बोधगया थाना अध्यक्ष भी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने हंगामा कर रहे छात्र के घरवालों को समझाने की कोशिश की साथ ही कार्रवाई करने का भी आश्वासन दिया। लेकिन परिजनों और अन्य लोग काफी आक्रोश मैं थे। ऐसे में पुलिस अनहोनी की आशंका में स्कूल की घेराबंदी कर सुरक्षा बढ़ा दी। हालांकि लोग इस घटना से काफी गुस्से में है।

यह भी पढ़े – Ind vs Zim ODI series : भारत को एक बार फिर लगा बड़ा झटका, यह प्लेयर चोटिल होने के चलते टीम से हुआ बाहर

घरवालों ने प्रिंसिपल की गिरफ्तारी की मांग
मृतक छात्रा के परिजनों ने स्कूल के प्रिंसिपल पर आरोप लगाया है कि, उनकी लापरवाही के कारण उसकी मौत हुई है। उनकी मांग है कि प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया जाए। घटना डीएवी स्कूल के नंबर 55 से हुई है। इसके लिए स्कूल प्रशासन दोषी है। स्कूल बस में सीट से ज्यादा बच्चों को लाया और पहुंचाया जाता है। इसी की अफरातफरी में इस तरह की घटना हुई है। स्कूल प्रबंधन की लापरवाही के कारण ही यह घटना हुई है। इधर छात्रा की मौत से परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। इलाके में भी मातम सन्नाटा फैल गया है।

Related posts

भारतीय इतिहास का वो सबसे अय्याश राजा जिसकी थी 365 बीवियां तथा इतने बच्चे, कहानी हैरान करने वाली

doonprimenews

पिता ने किया रिश्ते को शर्मसार, अपने ही पुत्र का शराब के नशे में किया कत्ल, जानिए क्या है पूरा मामला

doonprimenews

मंत्री मोहम्मद जमा और खेसारी लाल की मौजूदगी में उड़ी कोरोना नियमों की धज्जियां, केस दर्ज ​​​​​​​

doonprimenews

Leave a Comment