Doon Prime News
nation

भारतीय इतिहास का वो सबसे अय्याश राजा जिसकी थी 365 बीवियां तथा इतने बच्चे, कहानी हैरान करने वाली


भारतीय इतिहास का वो सबसे अय्याश राजा जिसकी थी 365 बीवियां तथा इतने बच्चे, कहानी हैरान करने वाली
आज का भारत लोकतंत्र (Democratic Country) है। यहां के लोग election के जरिये अपना leader चुनते हैं। लेकिन भारत के इतिहास( History)में कई राजा-महाराजा था। इनका अपना राज्य होता था जहां ये शासन करते थे। इनमें से कुछ राजा अपने स्वभाव के कारण लोगों के दिलों में जगह बनाते थे वहीं कुछ ऐसे भी राजा रहे हैं,जो अपने नेचर ( nature) की वजह से बदनाम रहे हैं। इन्हीं बदनाम राजाओं में से एक पटियाला रियासत के महाराजा भूपिंदर सिंह (Maharaja Bhupinder Singh) का नाम है।
जानिए कौन है महाराजा भूपिंदर सिंह
पटियाला रियासत के महाराजा भूपिंदर सिंह को लोग देश के सबसे अय्याश राजा के रूप में जानते हैं। उन्होंने करीब 38 सालों तक पटियाला रियासत पर हुकूमत की थी। ऐसा बताया जाता है कि महाराजा भूपिंदर सिंह की 365 रानियां थी जिनसे उन्हें 83 बच्चे हुए। हालांकि, उनमें से 20 की मृत्यु हो गई थी। इसके अलावा महाराजा भूपिंदर सिंह ने एक खास महल भी बनवाया था, जहां पर उन्हीं लोगों को आने की अनुमति दी जाती थी जो कि बिना वस्त्र के होते थे। आपको बता दे कि महाराजा भूपिंदर सिंह का जन्म 12 October 1891 के पटियाला राजवंश में हुआ था। कुछ कारण ऐसे बने कि भूपिंदर सिंह को महज 9 वर्ष की छोटी आयु में ही राजा बना दिया गया था। हालांकि, उन्होंने राज पाठ 18 साल का होने पर संभाला था। महाराजा भूपिंदर सिंह बेहद रंग मिजाज के थे।

जानिए किस रानी के साथ रात बिताएंगे महाराजा, इस अनोखे ढंग से लेते थे फैसलामहाराजा भूपिंदर सिंह की 365 रानियां थीं लेकिन उनमें से 10 को ही उन्होंने पत्नी का दर्जा दिया हुआ था। रोज राजा नई रानी के साथ रात बिताया करते थे और रानी का चुनाव लालटेन की मदद से करते थे। जी हां, महाराजा किस रानी के साथ रात बिताएंगे? इसका फैसला भी बड़े ही अनोखे ढंग से करते थे। दरअसल, राजा महल में 365 रानियां थी और हर एक रानी के नाम की लालटेन रोज जलती थी। जो लालटेन सबसे पहले बुझ जाती थी, राजा उस रानी के साथ अपनी रात गुजारा करते थे।

क्या आपको पता है कि अय्याशी और रंगरलिया करने के लिए कराया था लीला भवन का निर्माण
जी हां,बता दे की महाराजा भूपिंदर सिंह ने एक बेहद खास महल का निर्माण करवाया था, जिसमें वह अय्याशी और रंगरलिया किया करते थे। ऐसा बताया जाता है कि इस लीला महल में बिना कपड़ों के ही लोगों को भीतर जाने की इजाजत दी जाती थी। जी हां,सिर्फ नग्न लोगों को ही इस महल में प्रवेश(entry) दिया जाता है। इसी महल में भूपिंदर सिंह ने एक विशेष कमरा भी बनवाया था, जिसमें भोग विलास के लिए सभी साधन थे। इसके साथ ही महल में रानियों के लिए एक महिला doctor भी रहती थी। बता दें कि आज भी यह महल पटियाला में भूपेंद्रनगर रोड किनारे स्थित है।महाराजा भूपिंदर सिंह खुद का रखते थे विमान

यह भी पढ़े : बड़ी खबर -ट्रैन के AC कोच में बैठी थी महिला, पेंट्री कार में उठा ले गया दरिंदा और किया बलात्कार।
महाराजा भूपिंदर सिंह केवल अय्याश ही नहीं माने जाते थे बल्कि इसके साथ-साथ वह उस जमाने में एक बेहद लग्जरी ( luxury)जीवन व्यतीत किया करते थे। ऐसा बताया जाता है कि उनके खजाने में दुनिया का सातवां सबसे कीमती हार भी था, जो चोरी हो गया था। इतना ही नहीं पटियाला पैग नाम भी भूपिंदर सिंह ने ही दिया था। महाराजा भूपिंदर सिंह लग्जरी लाइफ (luxury life ) के शौकीन थे। उनके पास अपना खुद का निजी विमान भी था। इतना ही नहीं बल्कि उस जमाने में उनके पास 44 रोल्स रॉयस कार (rolls royce car) भी थीं।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए  यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें. व्हाट्सएप ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें,Share this story

Related posts

PF धारकों के लिए अच्छी खबर , अब होगा फायदा बस जल्द कराएं यह काम।

doonprimenews

घास काटने गई महिला की पहाड़ी से गिरकर मौत, शादी को हुए थे सिर्फ 5 महीने

doonprimenews

Petrol- diesel के नए दाम जारी, घर से निकल रहे है तो देखले क्या है दाम

doonprimenews

Leave a Comment