Doon Prime News
jobs

आप भी जान सकते हैं कि कैसे महिलाएं बन सकती है वायुसेना की फाइटर पायलट (fighter Pilot), यहाँ पढ़ें पूरी जानकारी।

Independence Day 2022: इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ विमन एयरलाइन पायलट की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत में महिला पायलटों की संख्या पूरे विश्व से सबसे ज्यादा है। संगठनों के आंकड़ों की तरफ नजर डालें तो विश्व के सभी देशों में कुल 5.8% महिलाएं पायलट है, और पायलट के महिला पुरुष अनुपात में भारत 12.4% के साथ सबसे आगे चल रहा है। हालांकि यह आंकड़ा कमर्शियल पायलट से संबंधित है, लेकिन भारतीय वायुसेना में भी महिलाओं की फाइटर पायलट(fighter Pilot) के तौर पर एंट्री खुल जाने से जल्द ही इस आंकड़े में बढ़त दिखेगी। ऐसे समय में जबकि पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस 2022 के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है, देश भक्ति भरे इस अवसर पर आइए हम आपको बताते हैं कि कैसे महिलाएं भारतीय वायुसेना में भी पायलट बनकर देश की सेवा का मौका पा सकती है।

IAF Women Pilot Recruitment: ऐसे महिलाएं भी बन सकती है वायुसेना में फाइटर पायलट(fighter Pilot)?
महिलाओं के लिए भारतीय वायुसेना में फाइटर पायलट(fighter Pilot) बनने के लिए पहले आईएफ के फ्लाईंग ब्रांच में एंट्री लेनी होगी। इसके बाद उनके पास दो ऑप्शन है पहला की 12वीं के स्तर के लिए राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) परीक्षा और दूसरा न्सातक स्तर के लिए एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट। एनडीए परीक्षा का आयोजन संघ लोक सेवा आयोग द्वारा साल में दो बार किया जाता है। अधिक जानकारी के लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर देख सकते हैं। वही न्सातक उत्तीर्ण होने पर एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट का आयोजन वायुसेना द्वारा किया जाता है। अधिक जानकारी आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट afcat.cdac.in से पा सकते हैं। इसके अलावा एनसीसी एयर विंग में सी सर्टिफिकेट प्राप्त होने से भी महिला उम्मीदवारों की भारतीय वायुसेना के फ्लाईंग ब्रांच में एंट्री मिल सकती है, जिसके लिए आईएएफ द्वारा वर्ष में दो बार जून और दिसंबर के महीने में रोजगार समाचार में विज्ञापन जारी किया जाता है, जहां से अधिक जानकारी ले सकते हैं।

यह भी पढ़े -Madhya Pradesh: इंदौर में हुआ बम ब्लास्ट (bomb blast) , जानिए क्या हैं पुरा मामला

IAF Women Pilot Recruitment: वायुसेना में फाइटर पायलट(fighter Pilot) की चयन प्रक्रिया।
एनडीए और सीडीएस परीक्षा में प्रदर्शन के आधार पर उम्मीदवारों को रक्षा मंत्रालय के सेवा चयन बोर्ड (एसएसबी) द्वारा आयोजित होने वाले इंटरव्यू राउंड में सम्मिलित होना होता है। इसके बाद उम्मीदवारों को मेरिट और उनके प्रिफरेंस के आधार पर चुना जाता है और फिर एयर फोर्स ट्रेनिंग बेस पर स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है। इसे पूरा करने के बाद एयरफोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर के तौर पर स्थायी कमीशन दिया जाएगा। कमीशन मिलने के बाद फीमेल फ्लाईंग ऑफिसर के फाइटर पायलट(fighter Pilot) के तौर पर सेवा का अवसर मिलेगा।

Related posts

Indian Army Bharti 2022 : भारतीय सेना में भर्ती होने का सुनहरा मौका, 10th पास युवाओं के लिए निकली भर्तियां

doonprimenews

AIIMS में सीनियर रेजिडेंट पदों पर निकली वैकेंसी, जानिए कैसे करें अप्लाई।

doonprimenews

अगर आप भी Indian Navy में नौकरी पाने की इच्छा रखते हैं, तो हो रही है बंपर भर्ती, जल्द करें आवेदन

doonprimenews

Leave a Comment