Doon Prime News
crime

पिता ने अपने 5 साल के बच्चे को petrol डालकर जिंदा जला दिया

पिता ने अपने 5 साल के बच्चे को petrol डालकर जिंदा जला दिया

नशा करने से रोकने पर गुस्साए दामाद ने आठ दिनों पूर्व सास-ससुर समेत अपने पांच वर्षीय इकलौते पुत्र आदित्य कुमार को petrol छिड़ककर जिंदा फूंक दिया। आग में बुरी तरह झुलसे एकचारी गांव निवासी सुरेश मंडल और कलावती देवी की उसी दिन मौत हो गई थी। aditiya को गंभीर हालत में इलाज के लिए भागलपुर मायागंज hospital में भर्ती किया गया था, जहां सोमवार को उसकी भी मौत हो गई। घटना से बदहवास आदित्य की मां लक्ष्मी देवी भी मायागंज में इलाजरत है। आरोपित दामाद पीरपैंती थाना क्षेत्र के ओलनी टोला निवासी मनोज मंडल ने गत तीन october को अपने ससुराल एकचारी में घटना को अंजाम दिया था। police आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

यह भी पढ़े -जीवन में भूल कर भी नहीं करने चाहिए ये पांच काम

पूरा मामला 

साठ वर्षीय सुरेश मंडल के घर पर उसका दामाद मनोज मंडल घटना की रात दस बजे आया था। दो दिन पहले उसकी पत्नी लक्ष्मी देवी मायके आई थी। मनोज नशे की हालत में था। उसके पास हथियार भी थे। आते ही वह पत्नी के साथ मारपीट करने लगा। सास-ससुर बीच-बचाव करने आए तो उनसे भी विवाद करने लगा। इसके बाद वह ससुराल से चला गया। रात्रि पौने बारह बजे फिर आ धमका। अबकी उसके हाथ में एक डिब्बा था, जिसमें petrol था। उस वक्त घर के सभी सदस्य सो रहे थे। सुरेश मंडल, उनकी पत्नी कलावती देवी और नाती आदित्य एक चौकी पर थे। लक्ष्मी देवी अपनी छह माह की पुत्री काजल को लेकर बगल के चौकी पर सोई हुई थी। मनोज ने आते ही पेट्रोल छिड़ककर घर में आग लगा दी। चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण दौड़े। आनन-फानन आग बुझाई गई।

लेकिन तबतक सुरेश मंडल, कलावती देवी और आदित्य आग में बुरी तरह से झुलस गए थे। लक्ष्मी और उसकी पुत्री काजल को बचा लिया गया। जख्मी सुरेश मंडल, कलावती देवी और आदित्य कुमार उपचार के लिए भागलपुर मायागंज hospital भेजा गया। लेकिन रास्ते में ही कलावती देवी की मौत हो गई। जबकि सुरेश मंडल की मौत मायागंज अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई। आदित्य का इलाज चल रहा था। सोमवार को उसकी भी मौत हो गई

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए  यहां क्लिक करें, साथ ही और भी Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें. व्हाट्सएप ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें,

Share this story

Related posts

यहां कुछ अंजान व्यक्तियों ने SI दिलबाग सिंह की गाड़ी के नीचे लगाया बम, पूरा मामला CCTV में हुआ कैद

doonprimenews

लिव इन पार्टनर की हत्‍या नौ माह के पुत्र को लावारिस छोड़ने वाले सचिन ने ही की थी

doonprimenews

जाकाे राखे साईयां मार सके न काेई,मासूम बच्ची के उपर गिरने से बचा गर्म दुध,माता की तस्वीर ने बचा लिया

doonprimenews

Leave a Comment