Doon Prime News
crime

पतंजलि का अधिकारी बनकर देहरादून के दंपति से साइबर ठगी, इलाज का दिया था झांसा

साइबर ठग ने पतंजलि का अधिकारी बनकर पीड़ित का इलाज कराने के नाम पर लाखों रुपए की ठगी कर डाली. पीड़ित की तहरीर के आधार पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ नगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है.

तेज सिंह महर निवासी डोभालवाला ने शिकायत दर्ज कराई की उनको कमर दर्द, डिस्कस्लिप और अस्थमा की बीमारी है. उनकी पत्नी गंगा अर्थराइटिस और शुगर की बीमारी से पीड़ित है. पीड़ित ने 15 फरवरी को यूट्यूब पर वीडियो देखा. वीडियो में गणपत लाल स्वयं को पतंजलि का बुकिंग अधिकारी बता रहा था. वो कई तरह की बीमारियां ठीक करने का दावा कर रहा था.

यह भी पढ़े – क्या आपको पता है अमरूद के साथ साथ अमरूद के पत्ते भी होते है आपकी सेहत के लिए फायदेमंद।

तेज सिंह के अनुसार उसके बाद उन्होंने दिए गए नंबर पर संपर्क किया. आरोप है कि गणपत लाल ने दंपति को पतंजलि में उपचार दिलाने का झांसा दिया. फोनकर्ता द्वारा दंपति से उपचार खर्च के रूप में 1,05,000 रुपए और सिक्योरिटी मनी के रूप में 25,500 रुपए जमा करवा लिए गए.

इसके बाद पीड़ित ने अपनी बुकिंग की स्थिति जानने के लिए उसके नंबर पर फोन किया. लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. उसके बाद वह नंबर बंद हो गया. नगर कोतवाली प्रभारी एनके भट्ट ने बताया कि पीड़ित की तहरीर के आधार पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले में जांच शुरू कर दी गई है.

ऐसे तमाम बढ़ते मामलों को देखते हुए उत्तराखंड साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन ने किसी भी साइबर संबंधी शिकायत या सुझाव के लिए 0135-2655900 नंबर जारी किया है. जिस पर अपनी शिकायत या फिर सुझाव दे सकते हैं. इसके साथ ही [email protected] पर ईमेल भी कर सकते हैं. यही नहीं फेसबुक के माध्यम से भी https://www.facebook.com/cyberthanauttarakhand/ संपर्क कर सकते हैं.

 

Related posts

लिव इन पार्टनर की हत्‍या नौ माह के पुत्र को लावारिस छोड़ने वाले सचिन ने ही की थी

doonprimenews

Muradabaad में delhi-lucknow highway पर बड़ा हादसा, बाइक सवार दो की मौत, एक घायल

doonprimenews

ट्रक में सवार arvind तीनों मेरी आँखों के सामने जिंदा जल गए, किसी ने सुना तक नहीं

doonprimenews

Leave a Comment