Doon Prime News
business

भारत सरकार जल्द लाने वाली है LIC का IPO, पालिसी धारकों के लिए खुशखबरी, मिलेगा यह खास फायदा।

केंद्रीय बजट 2021-22 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया था कि सरकार इस वित्त वर्ष में विनिवेश प्रक्रिया से करीब 2.1 लाख करोड़ रूपए जुटाएगी। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कुछ सरकारी कंपनियों को बेचने का जिक्र करते हुए कहा की सरकार का काम व्यवसाय करना नहीं है और सरकार कुछ PSU’s को छोड़ कर बाकी सभी सरकारी कंपनियों को बेचने के बारे में विचार कर रही है। मोदी सरकार द्वारा सरकारी कंपनियों को बेचने का कई लोग और अर्थशास्त्री विरोध भी करते आए है लेकिन इसी बीच भारत सरकार देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी LIC का  IPO लाने की तैयारी कर रही है। सरकार LIC में अपनी करीब 6-7% हिस्सेदारी बेच कर 90,000 हज़ार करोड़ रुपए जुटाएगी।

  LIC का IPO आने के बाद ये देश का सबसे बड़ा आईपीओ बन जाएगा। इससे पहले सबसे बड़ा आईपीओ Coal India का आया था। LIC कितनी बड़ी कंपनी है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं की 1956 में गठित LIC बीमा कंपनी के करीब 12 लाख एजेंट हैं और 6,500 शाखाएं हैं। मौजूदा समय में LIC का शेयर बाज़ार में करीब 29 लाख करोड़ का निवेश है और LIC की कुल संपत्ति लगभग 34 लाख करोड़ है। LIC अपने मुनाफे का लगभग 95% हिस्सा अपने पॉलिसी धारकों को और 5% हिस्सा भारत सरकार को देती है।

तो आइए अब जान लेते हैं की IPO क्या होता है, LIC IPO में क्या खास होगा और आप इसका फायदा कैसे उठा सकते हैं – IPO क्या होता है ?

भारत सरकार जल्द लाने वाली है LIC का IPO,

जब भी कोई कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने या बिजनेस के लिए फंड्स इकट्ठा करने के लिए पहली बार शेयर बाज़ार से पैसा उठाती है तो इसे IPO यानी की Initial Public Offering कहते हैं. कोई भी कंपनी अपने आईपीओ की मदद से शेयर बाज़ार से लोगो से पैसा इकट्ठा करती है और इसके बदले लोगों को अपनी कंपनी में कुछ हिस्सेदारी (shares) देती है। IPO में कैसे निवेश किया जाता है ?

किसी भी आईपीओ में निवेश करना बेहद आसान है और यह प्रक्रिया पूर्ण रूप से ऑनलाइन होती है। IPO में अप्लाई करनेे के लिए आपके पास एक Demat Account होना जरूरी है।Demat Account आप किसी भी SEBI रजिस्टर्ड ब्रोकर जैसे की Groww, Zerodha, Upstox आदि से खुलवा सकते हैं। इसके बाद जब भी कोई आईपीओ खुलता है तो आप उस IPO में shares के lot के लिए अप्लाई कर सकते हैं। IPO तीन दिन के लिए खुलता है और आमतौर पर IPO में कम से कम 14-15 हज़ार रूपए का निवेश करना होता है। हालांकि SEBI इसे घटाकर 7-8 हज़ार रूपए करने पर विचार कर रही है।उद्धारण के लिए : माना की कोई  कंपनी शेयर बाज़ार में अपना आईपीओ लेकर आती है और कंपनी अपने एक शेयर की कीमत 1450 रुपए रखती है और एक लॉट 10 shares का है। तो आप कम से कम एक लॉट यानी कि 14,500 रूपए का निवेश कर सकते हैं और अधिकतम निवेश रिटेलर्स के लिए 2 लाख तक का हो सकता है।

IPO कैसे आवंटित होता है ?

भारत सरकार जल्द लाने वाली है LIC का IPO,

IPO में एप्लाई करने का मतलब ये नहीं होता की आपको शेयर मिल ही जाएंगे। आमतौर पर आईपीओ oversubscribe हो जाते हैं यानी की जितने शेयर्स हैं उससे कई ज्यादा एप्लीकेशंस आ जाती हैं। इस परिस्थिति में लॉटरी सिस्टम का प्रयोग किया जाता है और जिसकी क़िस्मत चलती है उसको आईपीओ एलॉट कर दिया जाता है। और जिसको आईपीओ एलॉट नहीं होता उसके पैसे वापस कर दिए जाते हैं।

यह भी पढ़ें- what is stock market – जानिए स्टॉक मार्किट से जुडी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां।

IPO से पैसे कैसे कमाए जा सकते हैं ?

जब भी आपको किसी कम्पनी का IPO मिलता है तो उसका मतलब ये है की आपको उस कम्पनी के कुछ शेयर्स मिल गए हैं। IPO से पैसा दो तरीके से कमाया जा सकता है :1. Listing Gain –

अगर आपको किसी कम्पनी के शेयर्स आईपीओ द्वारा मिलते हैं और आप उन शेयर्स को कम्पनी के शेयर बाज़ार में लिस्ट होते ही बेच देते है, तो आपको अगर इससे कोई फायदा होता है तो इसे Listing Gain कहते हैं। उद्धारण के तौर पे मान लीजिए की आपको आईपीओ 100 रुपए/शेयर के हिसाब से एलॉट हुआ और लिस्टिंग के दिन यह शेयर 150 रूपए प्रति शेयर के दाम पर लिस्ट हुआ तो आप इसे बेच कर 50 रूपए प्रति शेयर कमा लेंगे।

2. Long Term Capital Gain –

अगर आपको लगता है की IPO में एलॉट हुआ शेयर काफ़ी अच्छा है और ये शेयर आपको भविष्य में काफी अच्छा रिटर्न दिला सकता है तो आप इसे लम्बी अवधि के लिए अपने पास रख सकते हैं और जब कुछ साल बाद यह आपको अच्छे रिटर्न्स ला के दे दे तब आप इसे बेच सकते हैं। 

” ध्यान रखें की अगर IPO बाज़ार में अच्छा प्रदर्शन नहीं करता और आप इसे लिस्टिंग के समय बेच देते हैं तो ये आपको Listing Loss भी दे सकता है। “

हाल ही में कौन-कौन से IPO शेयर बाजार में आए हैं ?

Burger King, Mrs Bector, Antony Waste, Indigo Paints, IRFC, HFFC, Stovecraft, Railtel, Nureca, Heranba हाल ही में आए कुछ आईपीओ हैं। इनमें से Burger King ने करीब 200% लिस्टिंग गैन, Indigo Paints ने करीब 100% लिस्टिंग गैन दिया है और वहीं IRFC अभी अपनी इश्यू प्राइस से भी नीचे ट्रेड कर रहा है।

LIC IPO की खास एवं मुख्य बातें क्या है ?

भारतीय जीवन बीमा यानी की LIC का आईपीओ देश का सबसे बड़ा आईपीओ होने वाला है। और लिस्टिंग के बाद LIC Reliance Industries को पछाड़ कर शेयर बाजार में दर्ज भारत की सबसे मूल्यवान कम्पनी बन सकती है। इस आईपीओ से सरकार अपनी करीब 6 से 7% हिस्सेदारी बेचकर 90 हजार करोड़ रूपए जुटाएगी। अभी तक की प्राप्त जानकारी के अनुसार एलआईसी आईपीओ में 10% कोटा पॉलिसी धारकों के लिए और 35% कोटा रिटेल कैटेगरी के निवेशको के लिए आरक्षित रखा जा सकता है। चूंकि LIC अपने पॉलिसी होल्डर्स की मदद से ही आज इतनी बड़ी कंपनी बन पाई है इसलिए सभी पॉलिसी धारकों और जानकारों का मानना है कि सरकार को LIC पॉलिसी धारकों को IPO में खास वरीयर्ता देनी चाहिए ओर retail quota को भी बढ़ाना चाहिए।

LIC IPO की कब तक बाज़ार में आने की उम्मीद है ?

जानकारी के अनुसार अभी LIC SBI Capitals और Deloitte के साथ मिलकर आईपीओ का D-RHP यानी की Draft-Red Herring Prospectus तैयार कर रही है और कुछ समय में इसे तैयार करके शेयर मार्केट रेगुलेटर यानी की SEBI के पास जमा कराएगी और SEBI से अनुमति मिलने के बाद RHP प्रस्तुत किया जाएगा। इतनी बड़ी कम्पनी होने के कारण इसका सटीक वैल्यूएशन करना थोड़ा मुश्किल है जिस वजह से इसमें समय लग रहा है। एलआईसी का आईपीओ साल की तीसरी तिमाही तक आ सकता है।

Disclaimer : इस लेख में दी गई सभी जानकारियां शिक्षा एवं ज्ञान के उद्देश्य से हैं, हम आपको किसी भी तरह का निवेश करने या ना करने की कोई सलाह नहीं देते है।

Related posts

Yahoo ने भारत में बंद की अपनी ये सभी सेवाएं,जानिए क्या है कारण

doonprimenews

चाचा की सलाह से छात्र ने एक महीने में कमाए 600 करोड़ , घरवालो ने hi दिया था उधार

doonprimenews

बाजार में सस्ता हुआ सोना,जानिए कितने की हुई गिरावट

doonprimenews

Leave a Comment